केंद्र सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिकता राज्य मंत्री रामदास आठवले ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि 2024 में ‘खेला’ नहीं सत्ता के लिए मोदी का ‘मेला’ होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में 2024 में एनडीए की सरकार बनने से दुनिया की कोई ताकत रोक नहीं सकती। चाहे ममता बनर्जी के नेतृत्व में कितने ही राजनीतिक दल एकजुट क्यों न हो जाएं?

रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय राज्य मंत्री आठवले ने राजनीतिक दलों को एकजुट करने की ममता बनर्जी की मुहिम पर मीडिया से प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा, ममता के साथ सब लोग एक साथ आओ, लोकिन मोदी का मुकाबला करने की ममता बनर्जी में हिम्मत नहीं है। बंगाल में बीजेपी 3 से 77 सीटों पर पहुंची , वहां खेला इसलिए हुआ, क्योंकि कांग्रेस और कम्युनिस्ट पार्टी ने वोट ही नहीं काटा। जिससे बीजेपी को नजदीकी मुकाबले में कई सीटों का नुकसान झेलना पड़ा।

केंद्रीय मंत्री ने संसद में जारी गतिरोध को लेकर कहा कि पूरा देश देख रहा है कि विपक्ष सदन में चर्चा नहीं कर रहा है। ये लोग रोज हंगामा कर रहे हैं। चेयर के पास जा रहे हैं। मेरा मानना है कि नियम आना चाहिए कि तीन दिन तक हंगामा ठीक है, चौथे दिन सीट छोडकऱ हंगामा करने पर सदस्यों के दो साल तक सस्पेंड करने का नियम होना चाहिए। इससे सदन में हंगामा रोकने में मदद होगी। नरेंद्र मोदी की सरकार चर्चा के लिए तैयार है। अपोजि़शन को भी बात रखने का अधिकार है।

केंद्रीय राज्य मंत्री आठवले ने कहा कि महाराष्ट्र में बाढ़ पीडि़तों की कैंप लगाकर मदद के लिए गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिखूंगा। राज्य सरकार को हुए नुकसान की पूरी जानकारी केंद्र सरकार को देना चाहिए। महाराष्ट्र के पहाड़ी एरिया के गांवों का सर्वे होना चाहिए। ताकि खतरे की आशंका पर उन्हें सुरक्षित स्थान पर किया जाए।