भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने एक बार फिर मोदी सरकार को चेतावनी दी है। उन्होंने सरकार पर वादाखिलाफी का आरोप लगाया है। टिकैत ने कहा कि सरकार ने MSP पर गारंटी कानून समेत अन्य मुद्दों पर किया वादा तोड़ दिया है। इसलिए किसानों को एकजुट कर एक बार फिर से आंदोलन किया जाएगा।

यह भी पढ़ें : लापरवाह कर्मचारियों पर अब गिरेगी गाज, सिक्किम सरकार बना रही नॉन परफोर्मिंग विभाग

टिकैत ने कहा कि अभी हमने आंदोलन की कोई तारीख तय नहीं की है लेकिन हम जल्‍द ही इसे शुरू करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं। 3 विवादित कृषि कानून वापस लेने के साथ ही किसानों ने सरकार से कई और मांगे की थीं जिनमें न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य पर कानून बनाने की भी मांग भी थी। हाल में सम्‍पन्‍न हुए विधान सभा चुनावों के बाद सरकार सब कुछ भूल गई है लेकिन किसानों को वे वादे नहीं भूले हैं। सब याद है। उचित मूल्‍य पर बिजली, सिंचाई और फसलों के लिए एमएसपी जैसे मुद्दों पर अब तक कुछ भी नहीं किया गया है।

यह भी पढ़ें : गांजा की सप्लाई में तगड़े माहिर हैं नागालैंड के तस्कर, जानिए कैसे पहुंचाते हैं बिहार

उधर, मुजफ्फरनगर में महावीर चौक स्थित कार्यालय पर कार्यकर्ताओं की बैठक में किसान यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष राजवीर सिंह जादौन ने कहा कि कार्यकर्ता एकजुट हो जाएं। सरकार के खिलाफ फिर से लंबा संघर्ष करना पड़ेगा।