कांग्रेस ने राजस्थान के कैबिनेट मंत्री हरीश चौधरी को पंजाब और चंडीगढ़ (Harish Chaudhary new in-charge for Punjab and Chandigarh) के लिए अपना नया प्रभारी नियुक्त किया है. वह उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत (Chief Minister Harish Rawat) की जगह पंजाब का प्रभार देखेंगे.

 रावत को आखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (All India Congress Committee) के महासचिव और प्रभारी पद की जिम्मेदारी से मुक्त किया गया है, हालांकि उन्हें कांग्रेस कार्य समिति का सदस्य बनाये रखा गया है. कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल (Congress General Secretary KC Venugopal) की ओर से जारी बयान के मुताबिक, पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi)  ने हरीश चौधरी की नियुक्ति की.

वेणुगोपाल ने यह भी कहा कि पार्टी, महासचिव के तौर पर हरीश रावत के योगदान की सराहना करती है. पंजाब प्रदेश कांग्रेस (Punjab Pradesh Congress) में पिछले कई महीनों से चल रही उठापटक की पृष्ठभूमि में रावत ने पिछले दिनों कांग्रेस आलाकमान से आग्रह किया था कि उन्हें राज्य के प्रभारी की जिम्मेदारी से मुक्त किया जाए ताकि वह अपने गृह प्रदेश उत्तराखंड में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव पर ध्यान केंद्रित कर सकें. उत्तराखंड और पंजाब समेत पांच राज्यों में अगले साल की शुरुआत में वोट डाले जाएंगे.

हरीश रावत ने राहुल गांधी (Rahul Gandhi) से मुलाकात के बाद 20 अक्टूबर को कहा था, ‘‘मैं आज एक बड़ी ऊहापोह से उबर पाया हूं. एक तरफ जन्मभूमि के लिए मेरा कर्तव्य है और दूसरी तरफ कर्मभूमि पंजाब के लिए मेरी सेवाएं है. स्थितियां जटिल होती जा रही हैं, क्योंकि ज्यों-ज्यों चुनाव नजदीक आएंगे, दोनों जगह व्यक्ति को पूर्ण समय देना पड़ेगा.’’

हरीश चौधरी राजस्थान (Harish Chaudhary is the Revenue Minister in the Government of Rajasthan) सरकार में राजस्व मंत्री हैं. वो बाड़मेर जिले की बायतू विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं. 2009 में हरीश चौधरी बाड़मेर-जैसलमेर (MP from Barmer-Jaisalmer Lok Sabha seat) लोकसभा सीट से सांसद भी रहे हैं. हरीश चौधरी पार्टी में पहले भी बड़ी जिम्मेदारी संभाल चुके हैं.