महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के प्रमुख राज ठाकरे ने शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कामकाज की सराहना करते हुए उनकी जमकर प्रशंसा भी की। ठाकरे ने एक ट्वीट में कहा, मैं धार्मिक स्थलों, खासकर मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटवाने के लिए योगी सरकार को दिल से बधाई देता हूं। मैं उनके फैसले में उनके साथ खड़ा हूं। दुर्भाग्य से महाराष्ट्र में कोई योगी नहीं है। हमारे पास केवल शक्ति है। मैं भगवान से प्रार्थना करता हूं कि उन्हें सामान्य समझ दें। 

ये भी पढ़ेंः जानिए क्यों भड़के हुए हैं दिल्ली जामा मस्जिद के शाही इमाम अहमद बुखारी, पीएम मोदी और अमित शाह से मिलेंगे


मनसे प्रमुख के आज भारतीय जनता पार्टी के नेताओं के साथ बैठक करने की संभावना है। भाजपा महाराष्ट्र में आगामी निकाय चुनाव में शिव सेना को हराने के लिए मनसे का इस्तेमाल करने की तैयारी कर रही है। भाजपा सूत्रों ने कहा कि गठबंधन से जुड़ी सभी बाधाओं को दूर कर लिया गया है। भाजपा मुंबई और पुणे में मनसे को कुछ सीटें देगी और बाकी राज्य में भाजपा अपने दम पर चुनाव लड़ेगी। महाराष्ट्र में धार्मिक स्थलों पर लगे लाउडस्पीकर को लेकर मनसे प्रमुख राज ठाकरे हाल के दिनों में राज्य की उद्धव ठाकरे के नेतृत्ववाली महाविकास अघाड़ी सरकार पर हमले करते रहे हैं। महाराष्ट्र सरकार ने कहा है कि इस मामले पर केंद्र सरकार के स्तर पर फैसला किया जाएगा। 

ये भी पढ़ेंः सच में अब जलाने लगी है गर्मी, मौसम विभाग ने येलो की जगह जारी किया ऑरेंज अलर्ट


राज ठाकरे ने इसकी आलोचना करते हुए इस संबंध में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा लिए गए निर्णय के साथ-साथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की प्रशंसा की। दरअसल भाजपा राज्य में बड़े भाई की भूमिका निभाना चाहती है जिसे शिव सेना ने मंजूर नहीं किया। दोनों पार्टियों ने पिछले लोकसभा चुनाव में गठबंधन किया था। विधानसभा चुनाव में भी दोनों दल एक साथ थे लेकिन नतीजे आने के बाद शिव सेना ने मुख्यमंत्री पद को जिद की और बाद में गठबंधन तोडक़र कांग्रेस-राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) से हाथ मिला लिया।