उत्तराखंड इन दिनों हो रही भारी बारिश और भूस्खलन से बेहाल है। जहां निचले क्षेत्रों में जलभराव से आबाद इलाके मुसीबतों से घिरे हैं। वहीं, बीती रात भारी बारिश के कारण ऋषिकेश देहरादून के बीच रानीपोखरी में जाखन नदी के ऊपर वैकल्पिक मार्ग बाढ़ में बह गया है। गौरतलब हैं कि बीते 27 अगस्त को पुल टूटने के बाद लोक निर्माण विभाग की ओर से यहां वैकल्पिक मार्ग शुरू किया गया था। जिस पर बीती रविवार से यातायात प्रारंभ कर दिया गया था। हालांकि ऋषिकेश और देहरादून के बीच सिर्फ नेपालीफार्म और भानियावाला के जरिए सड़क संपर्क बना हुआ है। वहीं, रात के बारिश के बाद से हालात अब काफी खराब हो गए हैं।

दरअसल, लोक निर्माण विभाग ऋषिकेश के सहायक अभियंता के मुताबिक पहाड़ी क्षेत्र में हो रही भारी बारिश के कारण जाखन नदी में अचानक पानी भर गया। इसकी सूचना पाकर टीम को मौके पर भेजा गया है। वहीं, पर वैकल्पिक मार्ग का लगभग 300 मीटर हिस्सा नदी के ऊपर नया बनाया गया था, जिसमें लगभग पूरा ही वैकल्पिक मार्ग नदी के ऊपरी क्षेत्र से बाढ़ में बह गया है। जहां वैकल्पिक मार्ग का अभी आरबीएम से आधार बनाया गया था। इस पुल का डामरीकरण कुछ दिनों में होना ही था। इस मामले की जानकारी सीनियर अधिकारियों को दे दी गई है। ऐसे में वहां पर मौजूद विभाग के कर्मचारी देहरादून ऋषिकेश की ओर से आने वाली गाड़ियों को वापस लौट आ रहे हैं।

इस मामले में रानी पोखरी के थानाप्रभारी ने बताया कि थाने के बैरियर के पास वाहन चालकों को लौटाया जा रहा है। वही, भोगपुर थाना वैकल्पिक मार्ग में विदालना नदी में भी पानी आ गया है, जिसके कारण इस वैकल्पिक मार्ग पर भी फिलहाल यातायात रोक दिया गया है। यही स्थिति घमंडपुर वैकल्पिक की मार्ग की भी बनी हुई है।

बता दें कि रानी पोखरी में बीते 1 हफ्ते पहले जाखन नदी पर बना पुल टूट जाने के बाद लोक निर्माण विभाग ने नदी के ऊपर वैकल्पिक मार्ग का आधार तैयार कर लिया था। अधूरे वैकल्पिक मार्ग से दोपहिया वाहनों की आवाजाही शुरू हो गई है। इस रास्ते से चार पहिया वाहन केवल विभागीय चल रहे है जो निर्माण संबधी काम से जुड़े हुए हैं। अन्य चार पहिया वाहन का संचालन बंद किया हुआ था।