ओडिशा, असम, मेघालय, गांगेय पश्चिम बंगाल और तटीय आंध्र प्रदेश के अलग अलग हिस्सों में अगले 24 घंटों के दौरान भारी बारिश हो सकती है। नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा और झारखंड के अलग-अलग हिस्सों में भी इस दौरान तेज बारिश होने के आसार हैं।


उत्तराखंड, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और पश्चिम उत्तर प्रदेश कुछ हिस्सों में आंधी और तूफान के साथ बारिश होने और ओले गिरने का अनुमान है। पश्चिम-मध्य अरब सागर में समुद्र का रूख 13 अक्टूबर से 14 अक्टूबर तक और अदन की खाडी में 11 अक्टूबर से 14 अक्टूबर तक समुद्र का रूख प्रतिकूल रहने का अनुमान है इसलिए 14 अक्टूबर तक मछुआरों को गहरे समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी गयी है।


दक्षिण पश्चिम मानसून तमिलनाडु, रायलसीमा और उत्तर आंतरिक कर्नाटक में पिछले 24 घंटों के दौरान कमजोर रहा। ओडिशा, झारखंड, केरल, असम, मेघालय और पंजाब के अधिकतर हिस्सों में तथा ओडिशा, झारखंड और केरल के कई हिस्सों में तथा असम, मेघालय और पंजाब के कुछ स्थानों पर बारिश हुयी।


पश्चिम बंगाल के पर्वतीय इलाके, सिक्किम, उत्तराखंड, हरियाणा, विदर्भ, कोंकण, गोवा, तटीय आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, तटीय कर्नाटक और उत्तर-दक्षिण आंतरिक कर्नाटक के अलग अलग हिस्सों में बारिश हुयी या फिर गरज के साथ छींटे पडे।