मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल सहित प्रदेश के अन्य स्थानों पर बारिश का सिलसिला लगातार जारी है। इस बीच आज गुना में सर्वाधिक वर्षा हुयी। वहां 160 मिमी यानी छह इंच से अधिक वर्षा हुयी। मौसम विज्ञान केन्द्र भोपाल के वैज्ञानिकों के अनुसार प्रदेश के उत्तरी मध्य क्षेत्र में निम्न दाब क्षेत्र समुद्र तल से 5.8 किलोमीटर की ऊचाई तक फैले संयुग्मित चक्रवातीय परिसंचरण के साथ सक्रिय है। 

इसके अलावा एक 'ट्रफ' लाइन भी गुजर रही है, जिसके प्रभाव से प्रदेश की राजधानी भोपाल, रायसेन, विदिशा, गुना सहित अन्य स्थानों पर बारिश का क्रम जारी है। गुना में सर्वाधिक 160 मिमी वर्षा हुयी है। इसके अलावा रतलाम 16 मिमी, शाजपुर में 17 मिमी, सागर में 15 मिमी, ग्वालियर में 13 मिमी, पचमढ़ी में 11 मिमी, भोपाल में 8.9 मिमी के अलावा अन्य स्थानों पर वर्षा हुयी है। 

इससे पहले कल रात गुना में 65 मिमी, रायसेन में 33.2 मिमी, भोपाल में 30.2 मिमी, शाजापुर में 30 मिमी, पचमढ़ी में 26 मिमी, सागर में 12.8 मिमी के अलावा बैतूल, मंडला, होशंगाबाद, दतिया, इंदौर, जबलपुर, ग्वालियर, उज्जैन, टीकमगढ़ में भी वर्षा हुयी है। 

विभाग के अनुसार अगले चौबीस घंटों के दौरान प्रदेश के राजगढ़, शाजापुर, आगरमालवा, मंदसौर, गुना और अशोकनगर जिलों में कहीं कही भारी से अति भारी बारिश की संभावना है, तो वहीं चंबल संभाग के जिलों में तथा नीमच, शिवपुरी, ग्वालियर, दतिया, विदिशा, रायसेन, सीहोर, होशंगाबाद, धार, देवास, नरसिंहपुर, टीकमगढ़, निवाड़ी और सागर जिलों में कहीं कहीं भारी वर्षा हो सकती है। राजधानी भोपाल तथा उसके आसपास के क्षेत्र में कल रात से बारिश का दौर जारी रहा, जो आज दोपहर तक रुक रुक कर जारी रहा। यहां अगले चौबीस घंटों के दौरान में बारिश की संभावना जतायी गयी है।