मौसम का कभी भी पता नहीं रहता कब बदल जाए किसी को खबर ही नहीं रहती। पिछले कई दिनों मौसम करवटें ले रहा था, अपना मिजाज बदलते हुए बादल शाम को बरस पड़े। ये बारिश कुछ देर की ही थी जिसने सर्दी और बढ़ावा दे दिया है।हल्की बूंदाबादी से सुबह का माहौल थोड़ा धुंध भरा रहा।

जैसे की हम जानते है कि पिछले कुछ दिनों से रह-रहकर ठंडी हवाएं चल रही थी। जिससे अनुमान लगाया जा रहा था कि बारिश हो सकती है और ये अनुमान सही निकला, उमड़ते बादलों ने करवट ली और बरस पड़े। मौसम विभाग के मुताबिक आज का न्यूनतम तापमान 13.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया है।

मौसम विभाग ने जानकारी दी कि कहीं कहीं जगहों पर ही बादल बरसे हैं। छुट्टी होने के कारण लोगों को न तो बरसात का पता चला और ना ही ओले गिरने का।ठंड होने के कारण सभी लोग अपने अपने घर में दुबक कर बैठे रहे। इसी के साथ विशेष खरीददारी करने वाले लोग भी अपने अपने घर लौट चुके थे।

तभी आसमान से मोटी-मोटी बारिश की बूंदे गिरने लगी और कहीं कहीं जगहों पर ओले भी गिरे। बारिश और ओलों का सिलसिला कुछ ही देर तक चला लेकिन इस कुछ ही सेंकड की बारिश ने सर्दी ओर हवा दे दी है। आपको बता दें कि गुवाहाटी में ही नहीं असम के चिरांग जिले में भी मौसम का मिजाज देखने को मिला।

चिरांग जिले के भारत-भूटान सीमावर्ती के गांवों में बीती रात भारी वर्षा के साथ ओले गिरने से काफी क्षति हुई है। गांव के अधिकांश टीन के घर पर ओले गिरने से भारी नुकसान हुआ है। इसी के साथ फसलों को भी काफि नुकसान हुआ है।