कोरोना की दूसरी लहर में तेजी से बढते संक्रमण को देखते हुए रेल प्रशासन ने मण्डल के सभी आइसोलेशन कोच फिर से तैयार कर लिए गए हैं, वहीं वैक्सीनेशन भी तेजी से किया जा रहा है। मण्डल रेल प्रबन्धक विनीत गुप्ता ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि मण्डल से चलने वाली लगभग अस्सी प्रतिशत ट्रेनों का संचालन फिर से शुरु हो चुका है। 

उन्होने कहा कि ट्रेनों में यात्रियों की संख्या पूरी तरह नियंत्रित रखी जा रही है और भीडभाड बिलकुल नहीं हो रही है। उन्होने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर में तेजी से बढते कोरोना संक्रमण को देखते हुए मण्डल द्वारा पूर्व में बनाए गए आइसोलेशन कोच फिर से तैयार कर लिए गए है। उन्होंने बताया कि मण्डल द्वारा पूर्व में कुल 78 कोच आइसोलेशन कोच बनाए गए थे। 

इन सभी कोचेस की साफ सफाई करवाकर इन्हे पूरी तरह तैयार कर लिया गया है। श्री गुप्ता ने कहा कि कोरोना संक्रमण की रफ्तार पर रोक लगाने के लिए रेलवे द्वारा वैक्सीनेशन भी तेज गति से किया जा रहा है। रेलवे के विभिन्न टीकाकरण केन्द्रों पर रोजाना करीब चार सौ वैक्सीन लगाए जा रहे है। 

उन्होंने बताया कि कोरोना के गाइड लाइन के अनुसार रेलवे स्टेशन पर बिना मास्क के पाए जाने पर टीटीई और आरपीएप कर्मी जुर्माना कर सकते है। उन्होने कहा कि मास्क को लेकर जागरुकता लाने के लिए रेलवे स्टेशन पर आरपीएफ कर्मी और टीटीई को लगातार जुर्माना करने के निर्देश दिए गए है,ताकि लोगों में जागरुकता आ सके।