राज्य में रेलवे परियोजना के कार्यान्वयन को लेकर जारी विवादों के बीच मुख्यमंत्री डॉ. मुकुल संगमा ने कहा है कि राज्य में रेलवे की समस्या एक एलर्जी का रूप चे चुकी है।

मुख्यमंत्री ने क्रॉस सीमा कनेक्टिविटी और समावेशी विकास पर यहां आयोजित दो दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी के समापन समारोह में कहा कि जब हम मेघालय में रेलवे के मुद्दे के बारे में बात करते हैं, तो यह एक एलर्जी बन जाता है।

शुक्रवार को शिलॉन्ग कॉलेज के हीरक जयंती समारोह के मौके पर आयोजित इस संगोष्टी में मुख्यमंत्री ने पूर्वोत्तर क्षेत्र के लिए विशेष संदर्भ संभावनाओं और चुनौतियों को गिनाया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जो लोग राज्य में रेलवे परियोजना का विरोध कर रहे हैं, उन्हें राज्य में पहली ट्रेन सेवा शुरू होने से ही लाभ मिलने लगेगे।