नई  दिल्ली. रेल मंत्रालय ने देश में लगातार हो रही रेल घटनाओं को ध्यान में रखते हुए सभी ट्रेन संचालन से जुड़े अपने कर्मचारियों के लिए नए दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं।
अब कोई भी रेलकर्मी ड्यूटी पर रहते हुए फेसबुक, व्हाट्सएप, यूट्यूब जैसे सोशल मीडिया ऐप्स का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे. रेल मंत्रालय ने कहा है कि फेसबुक, व्हाट्सएप जैसे सोशल मीडिया ऐप्स की वजह से भी कर्मचारियों का ध्यान भटक जाता है और बड़े हादसे हो जाते हैं।


रेल मंत्रालय द्वारा खासतौर पर रेलवे के ऑपरेशन स्टाफ के लिए यह प्रतिबंध लगाया गया है. ऑपरेशन स्टाफ में ड्राइवर, गार्ड, टीटीई और स्टेशन मास्टर्स शामिल हैं. रेलवे के दिल्ली डिवीजन की तरफ से इस बारे में सर्कुलर जारी कर दिया गया है. बहुत ही जल्द अन्य डिवीजन से भी ऐसा ही आदेश जारी हो जाएगा।


रेलवे अधिकारियों का कहना है कि हमने बहुत बार देखा है कि बहुत से रेल संचालन और सुरक्षा विभाग से जुड़े कर्मचारी तथा अधिकारी ड्यूटी पर रहते हुए भी फेसबुक और व्हाट्सएप चलाते हैं।


फेसबुक और व्हाट्सएप के कारण उनका ध्यान भटक जाता है. रेल मंत्रालय के अनुसार रेल चलाते समय ड्राइवरों और गार्ड का पूरा ध्यान अपने काम पर होना बहुत जरूरी है. ड्राइवर और गार्ड को न केवल ट्रेन के मूवमेंट और पटरियों पर नजर रखनी पड़ती है, बल्कि एक दूसरे के साथ लगातार संपर्क में भी रहना जरुरी है. इसके साथ ही स्टेशन मास्टर से भी बात करना जरुरी है।