कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी विधानसभा चुनाव से पहले एक बार फिर मेघालय का दौरा करेंगे। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष विंसेंट पाला ने यहां संवाददाताओं से कहा कि गांधी यहां आ रहे हैं। हम उनके आगमन की तैयारी कर रहे हैं। गांधी ने हाल ही में राज्य का दो दिन का दौरा किया था। उन्होंने इस दौरान जोवाई में पार्टी कार्यकर्ताओं और प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारियों से मुलाकात की। उन्होंने इस दौरान एक संगीत कार्यक्रम में भी हिस्सा लिया था। उन्होंने नागरिक समाज के प्रतिनिधिमंडलों, परंपरागत ग्राम प्रमुखों और महिला नेताओं से मुलाकात की थी।


इस दौरान एक सभा में राहुल गांधी ने आरोप लगाया था कि मेघालय में चुनाव जीतने के लिए भारतीय जनता पार्टी चर्चों को पैसा ऑफर कर रही है। राहुल ने कहा था कि बीजेपी के पास बहुत पैसा है और उनके नेताओं को लगता है कि पैसे से सब कुछ खरीद सकते हैं। मैंने सुना कि बीजेपी ने चर्चों को पैसे ऑफर किये। ये चर्च की इंसल्ट है। आप पैसे से इंसान नहीं खरीद सकते हैं।


राहुल गांधी ने जयन्तियां हिल्स से आए कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के सम्मलेन में कहा था कि कांग्रेस इस देश की विविधता को बढ़ावा देना चाहती है और बीजेपी अपनी खास विचारधारा पूरे देश पर थोपना चाहती है। कांग्रेस और बीजेपी में यही फर्क है।उन्होंने ये भी आरोप लगाया कि इस वक्त कि केंद्र सरकार दो जगहों से चलती है पहला दिल्ली और दूसरा नागपुर। इनका मकसद है कि संस्थाओं पर कब्जा कर लो या उन्हें खत्म कर दो।

गौरतलब है कि जब राहुल गांधी शिलॉन्ग के एक कॉन्सर्ट में पहुंचे थे तो उनकी जैकेट को लेकर विवाद खड़ा हो गया था। बीजेपी की मेघालय यूनिट ने को ट्वीट कर राहुल गांधी के जैकेट पर निशाना साधा। बीजेपी का आरोप है कि राहुल गांधी 70 हजार रुपए की जैकेट पहनकर आए थे।