पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी गुरुवार को अमृतसर पहुंचेंगे। पंजाब दौरे के दौरान राहुल गांधी पार्टी के नेताओं और नए उम्मीदवारों के साथ अमृतसर में गोल्डन टेंपल में लंगर में शामिल होंगे। लंगर में शामिल होने के दौरान राहुल गांधी के साथ सभी 117 उम्मीदवार उपस्थित रहेंगे जिनको पार्टी ने इस बार के चुनाव में टिकट दिया है।

पार्टी के मुताबिक कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष गुरुवार सुबह दिल्ली से अमृतसर पहुंचेंगे। अमृतसर पहुंचने के बाद वह स्वर्ण मंदिर में मत्था टेकेंगे और पार्टी के 117 उम्मीदवारों के साथ लंगर में शामिल होंगे। इसके साथ-साथ राहुल गांधी दुर्गियाना मंदिर और भगवान वाल्मीकि तीर्थ स्थल भी जाएंगे और वहां मत्था टेकेंगे।

दोपहर में राहुल अमृतसर से 100 किलोमीटर दूर जालंधर पहुंचेंगे। बाद में दिन में जालंधर के मीठापुर में, राहुल गांधी शाम को दिल्ली लौटने से पहले पंजाब फतेह वर्चुअल रैली को संबोधित करेंगे। चुनाव आयोग ने शनिवार को फीजिकल रैलियों और रोड शो पर प्रतिबंध 31 जनवरी तक बढ़ा दिया। पंजाब में 20 फरवरी को मतदान होगा।

उम्मदीवारों के पीछे लंगर में शामिल होने के पीछे की यह है वजह

पंजाब दौरे के दौरान राहुल गांधी की पूरी कोशिश यही है कि किसी भी तरह से पार्टी में एकजुटता नजर आए। पिछले कई महीनों से पंजाब कांग्रेस अंदरुनी कलह से गुजर रहा है। ऐसे में राहुल गांधी की कोशिश यही है कि चुनाव में पार्टी को अंदरुनी कलह की वजह से किसी भी प्रकार का नुकसान न हो।