मोदी सरनेम मामले में कांग्रेस नेता राहुल गांधी सूरत कोर्ट में पेश हो रहे हैं। ‘मोदी उपनाम’ को लेकर की गई टिप्पणी के चलते उनके खिलाफ सूरत से बीजेपी विधायक पूर्णेश मोदी ने आपराधिक मानहानि का मामला दर्ज कराया था। इस केस में राहुल अंतिम बयान दर्ज कराने के लिए पहुंचे हैं। सूरत के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ए एन दवे ने एक हफ्ते पहले राहुल गांधी को निर्देश दिया था कि वह 24 जून को कोर्ट में मौजूद रहें।

कोर्ट में पेशी से पहले राहुल गांधी ने अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया है। उन्होंने लिखा, 'अस्तित्व का पूरा रहस्य ही किसी डर का न होना है।' इससे पहले अक्टूबर 2019 में राहुल गांधी कोर्ट में पेश हुए थे और उन्होंने खुद को निर्दोष बताया था।

पूर्णेश मोदी ने अप्रैल 2019 में राहुल गांधी के खिलाफ आईपीसी की धारा 499 और 500 के तहत शिकायत दर्ज कराई थी। सूरत पश्चिम सीट से विधायक ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया था कि 2019 में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने यह कहकर पूरे मोदी समुदाय को बदनाम किया था कि ‘सभी चोरों के नाम में मोदी क्यों लगा होता है?

कर्नाटक के कोलार में 13 अप्रैल 2019 की एक चुनावी रैली में राहुल गांधी ने कथित तौर पर कहा था, ‘नीरव मोदी, ललित मोदी, नरेंद्र मोदी... इन सभी के नाम में मोदी लगा हुआ है। सभी चोरों के नाम में मोदी क्यों लगा होता है।’ जब उन्होंने यह टिप्पणी की थी तब वह कांग्रेस अध्यक्ष थे।