कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को आगामी लोकसभा चुनाव में पूर्वोत्तर की 25 में से कम से कम 20 सीटें जीतने की उम्मीद है। राहुल गांधी ने मंगलवार को 20 सीटें जीतने का लक्ष्य रखा। कांग्रेस अध्यक्ष ने पूर्वोत्तर के सभी राज्यों के कांग्रेस जिला व खंड इकाई प्रमुखों को संबोधित करते हुए कहा कि पार्टी क्षेत्र में चुनाव लड़ते हुए तीन से चार प्रमुख मुद्दों पर ध्यान केन्द्रित करेगी जिसमें विवादास्पद नागरिकता (संशोधन)विधेयक और एनआरसी को सही तरीके से लागू नहीं करना शामिल है। 

उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा, मैं पूर्वोत्तर में कांग्रेस पार्टी से 20 से अधिक सीटों की उम्मीद कर रहा हूं, उससे कुछ भी कम नहीं। हालांकि मेरा मानना है कि आपको 22 सीटें जीतने का प्रयास करना चाहिए। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव जीतने के बाद कांग्रेस सदस्यों को पार्टी को सभी राज्यों में सत्ता में वापस लाने पर काम करना चाहिए, जहां से उसे गलत तरीके से बाहर कर दिया गया था। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, कांग्रेस भारत और पूर्वोत्तर में तीन चार अलग अलग मुद्दों पर चुनाव लड़ेगी। इसमें एक नागरिकता विधेयक है। 

कांग्रेस का रूख स्पष्ट है कि हम इस विधेयक का विरोध करते हैं। कांग्रेस पार्टी पूर्वोत्तर के लिए खड़ी हुई और विधेयक को राज्यसभा में आने से रोक दिया। उन्होंने कहा, भ्रष्टाचार भी एक बड़ा मुद्दा है। जब भी मैं चौकीदार शब्द का उल्लेख करता हूं, सभी कहते हैं, चौकीदार चोर है। मैं इस देश के सभी चौकीदारों से उनकी विश्वसनीयता को खतरे में डालने ेक लिए माफी मांगता हूं लेकिन मैं कह रहा हूं केवल एक ही चौकीदार चोर है।