बेंगलुरू में स्टैंडअप कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी (Standup comedian Munawwar Farooqu)  के प्रोग्राम से पहले हुए विरोध प्रदर्शनों के बाद उनके कार्यक्रम को मंजूरी देने से इनकार कर दिया गया है। दरअसल, स्टैंडअप कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी के कार्यक्रम से पहले शहर में कुछ संगठन विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। संगठनों का कहना है कि मुनव्वर फारूकी ने (Munawwar Farooqui had hurt the sentiments of Hindus in a program) एक कार्यक्रम में हिन्दुओं की भावनाओं के ठेस पहुंचाई थी। इसके चलते बेंगलुरू पुलिस ने उनके कार्यक्रम को मंजूरी देने से इनकार कर दिया है।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि हमनें स्टैंडअप कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी (standup comedian Munawwar Farooqui के कार्यक्रम को मंजूरी देने से इनकार कर दिया है। वह आज किसी भी सार्वजनिक कार्यक्रम में प्रस्तुति नहीं देंगे। वहीं कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi has now come out in support of comedian Munawwar Farooqui) अब कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी के समर्थन में उतर आए हैं। उन्होंने कहा कि नफरत नहीं जीतेगी बस हमें विश्वास बनाए रखना है।

बता दें कि मुनव्वर फारूकी ने सोशल मीडिया पर कार्यक्रम रद्द होने की जानकारी दी थी। उन्होंने बताया कि कुछ लोगों ने आयोजन स्थल पर तोड़फोड़ की है। वहीं उन्हें लगातार धमकियां भी मिल रही हैं। इसके चलते पुलिस ने उनके कार्यक्रम को मंजूरी देने से इनकार कर दिया है। मुनव्वर फारूकी ने सोशल मीडिया पर लिखा, मेरा नाम मुनव्वर फारुकी है और मेरा समय आ गया है।

उन्होंने आगे लिखा कि आप लोग शानदार दर्शक थे। अलविदा, मैंने छोड़ दिया है। फारूकी ने लिखा नफरत जीत गई, आर्टिस्ट हार गया। इसके बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी उनके समर्थन में उतर आए हैं। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सोशल मीडिया पर लिखा कि नफरत नहीं जीतेगी बस विश्वास रखिए, हमें हार नहीं माननी है और रुकना नहीं है।