राजाधानी दिल्ली के कैंट इलाके स्थित पुराना नांगल गांव में कथित रूप से बलात्कार का शिकार हुई बच्ची के परिवार से मुलाकात करने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पहुंचे हैं।  खबर है कि आरोपियों ने बलात्कार के बाद बच्ची की हत्या कर दी थी।  इसके अलावा परिवार ने यह भी आरोप लगाए हैं कि श्मशान में पुजारी ने बगैर उनकी सहमति के  बच्ची का अंतिम संस्कार कर दिया और कह दिया कि मौत करंट लगने से हुई थी। 

मीडिया रिपोर्ट्स में पुलिस के हवाले से जानकारी दी गई है कि, बच्ची रविवार को शाम करीब 5:30 बजे श्मशान के वॉटर कूलर से ठंडा पानी लेने के लिए घर से गई थी।  शाम 6 बजे श्मशान के पुजारी राधे श्यान और पीड़ित बच्ची की मां के परिचय के 2-3 अन्य लोगों ने उन्हें श्मशान बुलाया और बच्ची का पार्थिव शरीर दिखाया।  पुलिस ने जानकारी दी कि लोगों ने मां को बताया कि बच्ची की मौत वॉटर कूलर से पानी पीने के दौरान करंट लगने से हुई है।  वहीं, मां का कहना है कि बच्ची की कलाई और कोहनी पर चोट के निशान थे और उसके होंठ नीले पड़ चुके थे। 

रिपोर्ट के अनुसार, पुजारी और अन्य लोगों ने बच्ची की मां से पुलिस को जानकारी नहीं देने के लिए कहा।  उन्होंने मां से कहा कि इससे  बात पोस्टमोर्टम तक पहुंचेगी, जहां बच्ची के अंगों को निकाल लिया जाएगा।  इस दौरान बगैर मां की सहमति के बच्ची का अंतिम संस्कार कर दिया गया।  अधिकारियों ने जानकारी दी कि इसके बाद महिला ने अपने पति को बुलाया।  इसके बाद मौके पर करीब 200 गांव वाले एकत्र हो गए और पुलिस को जानकारी दी गई। 

इस मामले में सोमवार को राधे श्याम, कुलदीप, लक्ष्मी नारायण और सलीम नाम के चार लोगों की गिरफ्तारी हुई है।  श्याम श्मशान में पुजारी है, जबकि, अन्य तीन लोग बच्ची की मां के परिचित हैं।  बच्ची के पड़ोस में रहने वाली एक महिला ने पुलिस से सीसीटीवी फुटेज की जांच करने की मांग की है।  साथ ही आरोपियों को कड़ी सजा देने की अपील की है।