पशुपालन मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने कहा है कि पंजाब द्वारा 200 करोड़ के जिंदा सूअर हर साल नागालैंड को सप्लाई किए जाएंगे। नगालैंड सरकार के एक प्रतिनिधिमंडल के साथ मीटिंग के दौरान ये सहमति बनी है। औपचारिक समझौता आने वाले दिनों में किया जाएगा। 

सिद्धू ने बताया कि नगालैंड के लोग देश के दूसरे क्षेत्रों के सुअरों के मुकाबले पंजाब के सुअरों को बढ़िया और स्वस्थ मानते हैं। सहमति के अनुसार 8 हजार सूअर हर महीने नागालैंड को भेजे जाएंगे और वार्षिक 200 करोड़ रुपए की आय पंजाब के सूअर पालकों को होगी। फिलहाल 100 जिंदा सूअर नगालैंड को भेजे जाएंगे, जिनकी प्रदर्शनी नगालैंड के विभिन्न हिस्सों में लगाई जाएगी। 

नगालैंड के प्रतिनिधिमंडल के साथ चिकन, मीट और मछली सप्लाई करने संबंधी भी विचार-विमर्श किया गया। सिद्धू ने नगालैंड के प्रतिनिधिमंडल को वहां के प्रगतिशील किसानों के साथ-साथ वेटरनरी डॉक्टरों को पंजाब में स्पेशल ट्रेनिंग की पेशकश भी की। इसके बाद नगालैंड के प्रतिनिधिमंडल को नाभा के पिग फार्म, गडवासू का दौरा भी करवाया गया।