चंडीगढ़। पंजाब चुनाव में बड़ा घमासान छिड़ता दिख रहा है। नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) के खिलाफ मैदान में ड्र्रग केस में फंसे शिरोमणि अकाली दल के वरिष्ठ नेता बिक्रम मजीठिया  (senior SAD leader Bikram Singh Majithia) अमृतसर ईस्ट (Amritsar East) से चुनाव लड़ेंगे। 94 साल के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश बादल को (Prakash Badal) शिअद ने लंबी से चुनाव लड़ाने का निर्णय लिया है। शिअद के प्रधान सुखबीर बादल ने पत्रकारों को यह जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि बिक्रम सिंह मजीठिया को झूठे ड्रग मामले में फंसाया गया है।

बता दें कि सुखबीर बादल ने दावा किया बिक्रम सिंह मजीठिया चुनाव में सिद्धू की जमानत जब्त करवा देंगे।  पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय ने ड्रग केस में आरोपी वरिष्ठ अकाली नेता बिक्रम सिंह मजीठिया की अग्रिम जमानत याचिका खारिज होने के बाद हाईकोर्ट ने उन्हें सुप्रीम कोर्ट में अपील करने का कल तक का समय दिया है। अब उन्हें जमानत के लिए सुप्रीम कोर्ट का रुख करना होगा।

गौर हो कि 20 दिसंबर को पंजाब के मोहाली में ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन ने स्टेट क्राइम पुलिस थाने में बिक्रम सिंह मजीठिया के खिलाफ केस दर्ज किया था। उसके बाद मोहाली कोर्ट में उनकी जमानत याचिका दाखिल की गई थी, लेकिन इस याचिका को कोर्ट ने खारिज कर दिया। शिरोमणि अकाली दल (शिअद) ने घोषणा की है कि पंजाब चुनाव में पूर्व मुख्यमंत्री और पार्टी सुप्रीमो प्रकाश सिंह बादल उनके गढ़ लंबी से चुनाव मैदान में उतरेंगे। बादल 1997 के बाद से लंबी से पांच बार चुनाव जीत चुके हैं।