पंजाब के मोहाली में पुलिस के खुफिया मुख्यालय पर रॉकेट से चलने वाले ग्रेनेड हमले का मुख्य साजिशकर्ता पाकिस्तान के आतंकवादी का बेहद करीबी है। आज डीजीपी वीके भावरा ने इसका खुलासा किया है। उन्होंने बताया गया कि मुख्य आरोपी एक गैंगस्टर है जो 2017 में कनाडा शिफ्ट हो गया था। पाकिस्तान की ISI की मदद से मोहाली में ब्लास्ट किया गया था।

यह भी पढ़ें : मिजोरम पहली महिला बस कंडक्टर बनी 23 साल की वनलालसांगकिमी

पंजाब डीजीपी वीके भावरा ने कहा, "मोहाली हमले मुख्य साजिशकर्ता लखबीर सिंह लांडा है। वह तरनतारन का निवासी है। वह एक गैंगस्टर है और 2017 में कनाडा में स्थानांतरित हो गया था। वह हरिंदर सिंह रिंडा का करीबी सहयोगी है, जो पाकिस्तान में स्थित एक आतंकवादी है।" 

उन्होंने कहा, "हमला के पीछे उद्देश्य कोई जनहानि नहीं था बल्कि एक संदेश भेजने था क्योंकि हमले के वक्त कार्यालय के अधिकांश अधिकारी जा चुके थे।" भावरा ने बताया कि बब्बर खालसा इंटरनेशनल (बीकेआई), एक आतंकवादी संगठन और गैंगस्टर लखबीर सिंह लांडा ने पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई की मदद से हमले की योजना बनाई थी। मोहाली ब्लास्ट में अब तक 6 लोगों की गिरफ्तारी की जा चुकी है।

यह भी पढ़ें : Gunotsav! मुख्यमंत्री हिमंता ने अंग्रेजी भाषा को बढ़ावा देने के लिए हाईब्रिड टीचिंग का रखा प्रस्ताव

गौरतलब है कि सोमवार को शाम 7:45 बजे मोहाली के सेक्टर 77 में अत्यधिक सुरक्षा वाली इमारत की तीसरी मंजिल पर आरपीजी फायरिंग की गई। यह बिल्डिंग पंजाब खुफिया विभाग की बताई जा रही है। इस घटना के बाद पूरे पंजाब में अलर्ट जारी कर दिया गया है।