आम आदमी पार्टी (आप) (AAP) को ईस्ट इंडिया कंपनी (East India Company) का आधुनिक अवतार करार देते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (Charanjit Singh Channi) ने आज कहा कि केजरीवाल एंड कंपनी का एकमात्र उद्देश्य राज्य की संपत्ति को लूटना है। मुख्यमंत्री ने स्थानीय रोशन मैदान में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि ‘आप’ नेतृत्व की नजर पंजाब की दौलत पर है जिसके कारण उसका नेतृत्व लोगों को‘हरित चारागाह’दिखा रहा है। 

उन्होंने केजरीवाल (Arvind Kejriwal) को चुनौती दी कि पंजाबियों के सामने झूठ के बंडलों को चलाने से पहले उन्हें दिल्ली के निवासियों को सस्ती बिजली और सस्ते पेट्रोल की घोषणा करने की हिम्मत करनी चाहिए, जो पंजाब सरकार ने किया है। चन्नी (Charanjit Singh Channi) ने कहा कि आप नेतृत्व को एक साधारण सी बात समझ लेनी चाहिए कि पंजाबी किसी बाहरी व्यक्ति को अपने ऊपर शासन नहीं करने देंगे। केजरीवाल (Arvind Kejriwal) पर पाखंड का आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री ने सत्ता हथियाने की उनकी योजनाओं से लोगों को सतर्क रहने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि केजरीवाल के वादे हर राज्य में उनकी मर्जी और पसंद के हिसाब से अलग-अलग होते हैं। 

चन्नी (Charanjit Singh Channi) ने कहा कि पंजाब में वह महिलाओं को हर महीने 1000 रुपये भत्ता देने का वादा कर रहे हैं, लेकिन गोवा में उनके द्वारा वादा किया गया भत्ता 5000 रुपये है जबकि दिल्ली में वह महिलाओं को कुछ भी नहीं दे रहे हैं। मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि पंजाब में क्रांतिकारी बदलाव आया है क्योंकि पहली बार उनके जैसे आम आदमी को सत्ता दी गई है, न कि किसी शाही या संपन्न व्यक्ति को। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार का लक्ष्य सभी को समान अवसर और राज्य के संसाधनों तक सभी की पहुंच सुनिश्चित करना है। 

चन्नी (Charanjit Singh Channi) ने कहा कि वे दिन गए जब केवल बादलों के पास सत्ता तक पहुंच थी, जिसके दौरान उन्होंने इसे पूरी तरह से लूट लिया और कहा कि अब समय आ गया है, जब संसाधनों का उपयोग लोगों की भलाई के लिए किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि श्री गुरु रविदास जी के जीवन और दर्शन के अनुरूप राज्य सरकार समतामूलक समाज के निर्माण के लिए कड़ी मेहनत कर रही है। उन्होंने कहा कि समाज के हर वर्ग के समग्र विकास और यहां के लोगों की समृद्धि सुनिश्चित करने के लिए हर निर्णय लिया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि एकमात्र उद्देश्य पंजाब को देश में अग्रणी राज्य बनाना है। उन्होंने कहा कि राज्य की जनता जानती है कि पंजाब में पूरे उत्तरी क्षेत्र में पेट्रोल-डीजल सस्ता है और इसी तरह पूरे देश में बिजली की दरें सबसे सस्ती हैं। उन्होंने अपनी सरकार द्वारा की गई कई जन-समर्थक पहलों को सूचीबद्ध करते हुए कहा कि बिजली बिल बकाया के 1500 करोड़ माफ किए गए हैं, घरेलू उपभोक्ताओं के लिए बिजली दरों में तीन रुपये प्रति यूनिट की कमी की गई है। ग्रामीण क्षेत्रों में मोटरों के संबंध में 1200 करोड़ की छूट दी गई है, जल शुल्क घटाकर 50 रूपय और बालू के रेट बहुत कम कर दिए गए हैं। पूर्व सांसद सुनील कुमार जाखड़ ने कहा कि राज्य के खिलाफ साजिशें रची जा रही हैं। 

उन्होंने कहा कि कृषि कानूनों के समर्थकों द्वारा किसानों को आतंकवादी करार दिया गया। जाखड़ ने कहा कि अब लोगों को सांप्रदायिक आधार पर बांटने का जघन्य प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य के लोगों को इन नापाक मंसूबों से सावधान रहना होगा। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार को अभूतपूर्व महंगाई और किसान विरोधी रुख के लिए सबक सिखाने की जरूरत है और कहा कि जो लोग पंजाब विरोधी मानसिकता रखते हैं, वे राज्य में सत्ता हथियाने के लिए बेताब प्रयास कर रहे हैं। जाखड़ ने कहा कि कि 2022 में कांग्रेस सरकार केंद्र में कांग्रेस सरकार के गठन के लिए एक कदम के रूप में कार्य करेगी। उन्होंने लोगों की भलाई के लिए कई महत्वपूर्ण पहल करने के लिए मुख्यमंत्री की भी सराहना की।