Punjab Election 2022 से पहले राज्य की सियासत में भूचाल आ गया है। पंजाब में विधानसभा चुनाव से पहले मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (charanjit singh channi) के भतीजे भूपिंदर सिंह हनी को ईडी ने गिरफ्तार किया है। Bhupinder Singh Honey को अवैध बालू खनन केस से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में अरेस्ट किया गया है। यह गिरफ्तारी देर रात हुई। इससे पहले उनसे करीब 8 घंटे पूछताछ हुई।

भूपिंदर सिंह हनी के घर पर करीब दो हफ्ते पहले ईडी ने छापेमारी भी की थी। हनी के दो सहयोगियों के ठिकानों पर भी छापे पड़े थे। तीनों के घर से बरामद कैश के बारे में ईडी पूछताछ करना चाहती है। बता दें कि छापेमारी में हनी के घर से करीब 7.9 करोड़ रुपये कैश मिला था। वहीं हनी के सहयोगी संदीप कुमार के ठिकाने से 2 करोड़ रुपये मिले थे।

भूपिंदर सिंह हनी पर आरोप है कि फर्जी कंपनियां बनाकर मनी लॉन्ड्रिंग की गई और उनपर बालू के अवैध खनन में भी शामिल होने का आरोप है। ईडी ने खुलासा किया था कि भूपिंदर सिंह हनी, कुदरतदीप सिंह और संदीप कुमार प्रोवाइडर्स ओवरसीज सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक थे। इस कंपनी को साल 2018 में बनाया गया था. यह काम कुदरतदीप सिंह के खिलाफ अवैध खनन मामले में FIR दर्ज होने के छह महीने बाद किया गया था।