झारखंड में नक्सलियों के खिलाफ अभी अभियान चलाया जा रहा है जिसमें उनका खात्मा किया जा रहा है। इसी बीच कल पुलिस नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई थी जिसमें दो लाख का इनामी नक्सली पुनई उरांव मारा गया। पीपुल्स लिबरेशन फ्रंट ऑफ इंडिया (PLFI) के इस नक्सली को मंगलवार देर शाम पुलिस ने एक मुठभेड़  में ढेर कर दिया। हालांकि, मारे जाने के बाद भी पुनई उरावं शव बिल्कुल बंदूक थामे हुई स्थिति में पड़ा हुआ था। उसके एक और नक्सली को मारा गया है।

इस मुठभेड़ में 2 लाख के इनामी नक्सली पुनई उरांव के ढेर होने बाद पुलिस रातभर लगातार इलाके में सर्च ऑपरेशन चला रही है। पुलिस के हौसले बुलंद है और वो फरार हुए अन्य नक्सलियों की तलाश में जुटी हुई है। वहीं सूबे के पुलिस महानिदेशक एमवी राव ने बुधवार को ट्वीट कर अपना मोबाइल नंबर जारी किया। साथ ही उन्होंने आम लोगों से अपील की है कि वे अपराधियों और नक्सलियों के बारे में सूचना देकर पुलिस का सहयोग करें।

मंगलवार देर शाम मुठभेड़ में मारे गए नक्सली पुनई उरांव का शव रात भर जमीं पर पड़ा रहा। इस दौरान मुठभेड़ के वक्त पुनई जिस पोजिशन में फायरिंग कर रहा था, उसी अवस्था में उसका शव बुधवार सुबह तक पड़ा हुआ मिला। हालांकि, हाथ से हथियार छूट कर जमीन पर गिर गया था। बताया जा रहा कि ठंड में पुनई उरांव का हाथ पूरी तरह से जकड़ गया था। सुबह में फॉरेंसिक विभाग की टीम मौके पर पहुंची और पंचनामा के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। इस दौरान फॉरेंसिक टीम लगातार साक्ष्यों को एकत्रित करने में जुटी रही।