इस्लामाबाद। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी (पीटीआई) के कार्यकर्ताओं ने बुधवार को होने वाले पंजाब के मुख्यमंत्री के अहम चुनाव से पहले यहां गुलबर्ग स्थित उसे होटल का घेराव कर लिया है जिसमें पीटीआई के कई असंतुष्ट विधायक पाकिस्तान मुस्लिम लीग -नवाज (पीएमएल-एन) के सैकड़ों सांसदों के साथ ठहरे हुए हैं। पाकिस्तानी अखबार 'डॉन' की मंगलवार की रिपोर्ट के मुताबिक इस दौरान पीटीआई कार्यकर्ताओं ने अपनी पार्टी के असंतुष्टों के खिलाफ नारेबाजी की और उन्हें 'गद्दार' करार दिया। 

यह भी पढ़े : Horoscope 5 April : मेष, सिंह और तुला राशि वाले रहें आज सावधान रहें , जानिए सभी राशियों का राशिफल

उन्होंने पीएमएल-एन उनके 20 सांसदों को 'रिहा' करने की मांग। इससे पहले पीटीआई पंजाब के सूचना सचिव मुसरत जमशेद चीमा ने पार्टी कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों को 'देशद्रोहियों' का घेराव करने के लिए होटल पहुंचने का आह्वान किया था। पीटीआई कार्यकर्ताओं ने होटल के बार लगे अवरोधों को हटाकर जबरन होटल में घुसने की कोशिश की। इसके बाद कारण पीएमएल-एन के कुछ सांसद अपने होटल के कमरों से बाहर आए और इमरान खान के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी, जिसके कारण गतिरोध पैदा हो गया। 

यह भी पढ़े : नवरात्रि को लेकर सियासी बवाल, दिल्ली में नवरात्रि के मौके पर आज से नहीं खुलेंगी मीट की दुकानें, असदुद्दीन ओवैसी बोले


कुछ पीएमएल-एन नेताओं ने अपने पार्टी कार्यकर्ताओं को होटल बुलाने की धमकी भी दी। करीब डेढ़ घंटे के बाद आखिरकार स्थिति शांत हुई और इस दौरान गुलबर्ग के मेन बुलेवार्ड पर कई घंटों तक यातायात ठप रहा। बाद में सांसदों की सुरक्षा के लिए अतिरिक्त पुलिस बल को होटल के बाहर तैनात कर दिया गया। पंजाब विधानसभा में विपक्ष के नेता हमजा शहबाज ने दावा किया कि पीटीआई कार्यकर्ताओं ने जब होटल में घुसने की कोशिश की, तो करीब 200 सांसद होटल में मौजूद थे। डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक पंजाब विधानसभा के डिप्टी स्पीकर बुधवार को मुख्यमंत्री के चुनाव से पहले 40 से अधिक विपक्षी और पीटीआई के असंतुष्ट सांसदों को निलंबित कर सकते हैं।