रेल रोको कार्यक्रम के दौरान पुलिस द्वारा किए गए लाठी चार्ज और आंसू गैस तथा अवरोधकारियों के ऊपर किए गए अत्यचार के खिलाफ शुक्रवार को अखिल असम कोच राजबंशी सन्मिलनी ने कोकराझाड़ जिला उपायुक्त कार्यालय के सामने चिल्ड्रेन पार्क में दो घंटे का धरना-प्रदर्शन किया।

बता दें कि कोकराझाड़ जिले के चौतरा रेलवे स्टेशन पर 6 अगस्त को एसटी की मांग को लेकर अखिल असम कोच राजवंशी सन्मिलनी द्वारा किए गए रेल रोको कार्यक्रम के दौरान जिला अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कमल कुमार गुप्ता द्वारा अवरोधकारियों पर किए गए हमले के खिलाफ अखिल असम कोच राजवंशी सन्मिलनी ने कमल कुमार गुप्ता को निलंबित करने की मांग की है।

सन्मिलनी के महासचिव रंजीत कुमार राय ने मीडिया को बताया कि रेल रोको कार्यक्रम के दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्ष के नेतृत्व में अवरोधकारियों के ऊपर लाठी चार्ज, आंसू गैस और हवा में गोलियां चलाई गई। इस दौरान बहुत से कार्यकर्ता घायल हो गए।इतना ही नहीं पुलिस ने 18 कार्यकर्ताओं को जेल भेज दिया।

उन्होंने मांग की कि पूरे घटना की न्यायिक जांच होनी चाहिए।

अगर जल्द ही गिरफ्तार किए गए कार्यकर्ताओं को बिना शर्त रिहा नहीं किया गया और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कमल कुमार गुप्ता निलंबित नहीं किया गया और 14 और 15 अगस्त के पहले हमारी मांग को पूरा नहीं किया गया तो हम  14 और  15 अगस्त को असम  बंद का आह्वान करेंगे, जिसकी घोषणा हम आज कर रहे हैं।

अगर सरकार हमारी मांग को नहीं मानती है तो हम इसके बाद अनिश्चितकाल के लिए रेल अवरोध, राष्टरीय राजमार्ग अवरोध , आर्थिक अवरोध तथा असम बंद का कार्यक्रम हाथ में लेंगे।