वायु प्रदूषण के खतरों से निपटने के लिए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य में पंद्रह वर्ष से अधिक पुराने व्यवसायिक एवं सरकारी वाहनों के परिचालन पर रोक लगाने का आज निर्देश दिया।


कुमार की अध्यक्षता में यहां वायु प्रदूषण के स्तर को कम करने के लिये हुई उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक में 15 वर्ष से ज्यादा पुराने व्यावसायिक एवं सरकारी वाहनों को वायु प्रदूषण कम करने के लिये प्रतिबंधित करने का निर्णय लिया गया।


इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि 15 वर्ष से पुराने निजी वाहनों की फिटनेस की जांच फिर से की जाये। इस पर सख्ती से कार्रवाई की जाये। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के ईंट-भ_े खासकर पटना के आसपास के इलाकों के ईंट-भट्टे की भी जांच करवा ली जाये कि वे प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिये आधुनिक तकनीक का उपयोग कर रहे हैं या नहीं।


इसके लिये सख्ती बरतने की आवश्यकता है। शहर के कचरा उठाने वाली गाड़ी कचरे को ढंककर ही डंपिंग प्वाईंट पर ले जायें, इसे हर हाल में सुनिश्चित किया जाये।