मॉरीशस के प्रधानमंत्री प्रविन्द्र कुमार जगन्नाथ 17 से 24 अप्रैल के बीच भारत की यात्रा पर आ रहे हैं। विदेश मंत्रालय ने आज यहां बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के निमंत्रण पर जगन्नाथ अपनी पत्नी कविता जगन्नाथ और एक उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल के साथ आज भारत पहुंचेंगे। 

यह भी पढ़े : Weekly Horoscope: वृषभ व कन्या समेत कई राशि वालों को आर्थिक मोर्चे पर जबरदस्त लाभ होगा

मेहमान नेता मंगलवार 19 अप्रैल को जामनगर में विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) वैश्विक पारंपरिक औषधि केन्द्र के भूमिपूजन कार्यक्रम में शिरकत करेंगे और बुधवार 20 अप्रैल को गांधीनगर में वैश्विक आयुष निवेश एवं नवान्वेषण शिखर सम्मेलन में प्रधानमंत्री मोदी के साथ भाग लेंगे। भूमिपूजन कार्यक्रम में विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के महानिदेशक डॉ. टेड्रॉस घेब्रेयसस भी उपस्थित रहेंगे। 

जीसीटीएम दुनिया भर में पारंपरिक चिकित्सा के लिए पहला और एकमात्र वैश्विक आउटपोस्ट केंद्र होगा। यह वैश्विक स्तर पर स्वास्थ्य के एक अंतरराष्ट्रीय केंद्र के रूप में उभरेगा। गांधीनगर के महात्मा मंदिर में होने वाले वैश्विक आयुष निवेश एवं नवान्वेषण शिखर सम्मेलन में डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक भी मौजूद रहेंगे। 

यह भी पढ़े : Love Horoscope 17 April : इन राशिवालों के लिए प्यार और रिलेशनशिप में आगे बढ़ने का समय, जानिए राशिफल

नयी दिल्ली और गुजरात में आधिकारिक कार्यक्रमों के अतिरिक्त मॉरीशस के प्रधानमंत्री वाराणसी भी जाएंगे और वहां काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन पूजन करेंगे। मॉरीशस में प्रधानमंत्री श्री जगन्नाथ सहित बड़ी तादाद में प्रवासी भारतवंशी समुदाय के लोग रहते हैं। विदेश मंत्रालय ने कहा कि भारत एवं मॉरीशस के बीच अनूठे एवं घनिष्ठ संबंध हैं जो समान इतिहास, संस्कृति एवं विरासत पर आधारित है। इस यात्रा से हमारे द्विपक्षीय संबंधों में नयी ऊर्जा आएगी।