राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू , उप राष्ट्रपति जगदीप धनखड़, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी , लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा और अनेक वरिष्ठ केन्द्रीय मंत्रियों ने मंगलवार को यहां भारत रत्न और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को उनकी पुण्यतिथि पर भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की।

ये भी पढ़ेंः Vegetables For Diabetes: डायबिटीज पेशेंट अपनी डाइट में शामिल करें इन सब्जियां को, ब्लड शुगर होगा कंट्रोल


राष्ट्रपति मुर्म, उपराष्ट्रपति धनखड़, प्रधानमंत्री मोदी और गृहमंत्री अमित शाह सहित अन्य केन्द्रीय मंत्री तथा भाजपा के वरिष्ठ नेता सुबह वाजपेयी की समाधि सदैव अटल पहुंचे और पार्टी के शीर्ष नेता रहे  वाजपेयी को पुष्पांजलि अर्पित की। इस मौके पर प्रार्थना सभा का भी आयोजन किया गया। मोदी ने अपने ट्वीट संदेश में कहा , अटल जी का भारत के प्रति सेवा भाव हमारे लिए प्रेरणा का स्रोत है। उन्होंने भारत में बदलाव तथा देश को 21 वीं सदी की चुनौतियों के लिए तैयार करने के उद्देश्य से अथक प्रयास किये। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने अपने संदेश में कहा, कि पूर्व प्रधानमंत्री श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी जी की पुण्यतिथि पर मैं उन्हें स्मरण करते हुए नमन करता हूं। देश को विकास और सुशासन का मंत्र देने वाले अटलजी का पूरा जीवन उनके व्यक्तित्व की गहराई और कृतित्व की ऊंचाई का प्रतिबिम्ब है। भारत की विकास यात्रा में उनका योगदान अविस्मरणीय है। 

ये भी पढ़ेंः लग चुके हैं 208 करोड़ टीके, फिर भी इन राज्यों में कोहराम मचा सकता है कोरोना, सामने आई चौंकाने वाली रिपोर्ट


अमित शाह ने ट्वीटर पर अपने संदेश में कहा, श्रद्धेय अटल जी ने मां भारती के गौरव को पुनस्र्थापित करने के लिए अपने जीवन का प्रत्येक क्षण खपाया। उन्होंने भारतीय राजनीति में गरीब कल्याण व सुशासन के नए युग की शुरुआत की और साथ ही विश्व को भारत के साहस व शक्ति का भी अहसास कराया। आज उनकी पुण्यतिथि पर उन्हें नमन। भाजपा के शीर्ष नेताओं में शुमार रहे वाजपेयी तीन बार देश के प्रधानमंत्री रहे और उन्हें भारत रत्न से भी नवाजा गया था। वाजपेयी का 16 अगस्त 2018 में लंबी बीमार के बाद निधन हो गया था।