मध्य प्रदेश पावर जनरेटिंग कंपनी ने परीक्षा लेने के बाद नियमित आधार पर 100 पदों पर की जाने वाली सीधी भर्ती की प्रक्रिया को निरस्त कर दिया है।  जिससे नियुक्ति की राह देख रहे सैकड़ों अभ्यर्थियों में मायूसी छा गई है। 

वहीं पावर जनरेटिंग कंपनी द्वारा नियमित पदों की भर्ती प्रक्रिया को निरस्त किये जाने के बाद विद्युत गलियारों में इस बात की चर्चा जोरों पर है कि अब विद्युत कंपनियों के निजीकरण की तैयारी की जा रही है, जिस कारण से ही नियमित पदों पर भर्ती नहीं की जा रही है। वहीं पूर्व में नियमित पदों पर भर्ती के लिए जो प्रक्रिया शुरू की गई थी, उसे भी निरस्त किया जा रहा है। 

पावर जनरेटिंग कंपनी ने अपने आदेश में कहा है कि कंपनी द्वारा संयंत्र सहायक (आईटीआई) नियमित आधार पर के 100 पदों पर सीधी भर्ती हेतु 31 जुलाई 2019 को प्रसारित विज्ञापन अनुरूप सीधी भर्ती प्रक्रिया के अंतर्गत पूर्व में 4 नवंबर 2019 को आयोजित की गई ऑनलाइन लिखित परीक्षा को निरस्त किया जाता है और सीधी भर्ती प्रक्रिया को तत्काल प्रभाव से समाप्त किया जाता है। 

कंपनी के आधिकारिक सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि पावर जनरेटिंग कंपनी में संयंत्र सहायक के 100 नियमित पदों पर दो साल पहले भर्ती प्रक्रिया शुरू की गई थी, जिसे निरस्त करते हुये नये सिरे से भर्ती प्रक्रिया शुरू की जायेगी।  सूत्रों ने इस बात की भी पुष्टि की है कि नये सिरे की जाने वाली भर्ती में पदों की संख्या में भी वृद्धि की जायेगी।