कांग्रेस महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा है कि प्रशांत किशोर ने कांग्रेस के ऑफर को ठुकरा दिया है। इसके बाद वो पार्टी में नहीं शामिल हो रहे हैं। कई दिनों से उनके कांग्रेस में शामिल होने की चर्चा गर्म थी।सुरजेवाला ने कहा, प्रशांत किशोर के साथ चर्चा और प्रजंटेशन के बाद कांग्रेस अध्यक्ष ने एम्पावर्ड ऐक्शन ग्रुप 2024 का गठन किया और इसी के तहत उन्हें पार्टी में शामिल होने का ऑफर दिया गया। हालांकि उन्होंने कांग्रेस जॉइन करने से इनकार कर दिया। पार्टी को दी जाने वाली सलाह के लिए हम उनकी तारीफ करते हैं।

यह भी पढ़ें : सिक्किम को लेकर पेमा खांडू का बड़ा ऐलान, इन राज्यों की तिकड़ी करेगी कमाल

इसके साथ ही प्रशांत किशोर ने भी ट्वीट करके कहा, कांग्रेस पार्टी ने मुझे एम्पावर्ड ऐक्शन ग्रुप में शामिल होने और चुनाव की जिम्मेदारी संभालने का ऑफर दिया था लेकिन मैंने इनकार कर दिया है। मुझस ज्यादा इस समय पार्टी को समम्मिलित प्रयास और अच्छे नेतृत्व की जरूरत है जो कि इसकी जड़ों में बसी समस्याओं को खत्म कर सके।

खबर है कि पार्टी प्रशांत किशोर को पूरी स्वतंत्रता के साथ काम करने का अधिकार नहीं दे रही थी। दूसरी तरफ सूत्र यह भी बता रहे थे कि सोनिया गांधी ने प्रशांत किशोर से स्पष्ट कह दिया था कि वह किसी और दल के साथ काम नहीं करेंगे बल्कि पूरा समय कांग्रेस को देंगे। बताते चलें कि एक दिन पहले ही पीके की IPAC ने केसीआर के साथ करार किया है जिसके तहत कंपनी 2024 के विधानसभा चुनाव के लिए रणनीति तैयार करेगी।

यह भी पढ़ें :गर्मियों में है सिक्किम में सुकून, दोस्तों के साथ प्लान कर सकते हैं ट्रिप

यह भी कहा जा रहा है कि प्रशांत किशोर चाहते थे कि वह सीधा कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व को रिपोर्ट करें। हालांकि उन्हें चुनावी तैयारियों के लिए बनाए गए ऐक्शन ग्रुप में जगह दी जा रही थी। दूसरी तरफ केसीआर की पार्टी के साथ IPAC का करार भी रोड़ा बना। हालांकि पीके पहले कह चुके हैं कि अब कंपनी के साथ उनका कोई लेना-देना नहीं है। फिर भी सर्वविदित है कि कंपनी के अहम फैसले उनके द्वारा ही लिए जाते हैं।