कोरोना से लड़ाई लड़ रही मुंबई में BMC इस समय जगह जगह कोविड वैक्सीन सेंटर खोल रही है। BMC की कोशिश है कि जब पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन लोगों को मिलेगी तो इधर उधर ज्यादा भाग दौड़ नहीं करना पड़ेगा। लोगों को आसानी से वैक्सीन मिल जाएगी। वहीं अब वैक्सीन को लेकर मुंबई में राजनीति भी दिखाई दे रही है और माना जा आगामी बीएमसी चुनावों को लेकर भूमिका बनाई जा रही है।

जीशान सिद्धकी ने ट्वीट कर जानकारी दी थी की "सब जगह लॉकडाऊन है। लोगों को खाना नहीं मिल रहा है। ऐसे मे क्या शिवसेना के लिए कोई नियम नहीं हैं? शिवसेना दिखाती है जैसे कि यह एक त्योहार है। बड़े बैनर लगाए जा रहे हैं। मानो मेला भरा हुआ है। शिवसेना ऐसे बरताव कर रही है जैसे कि वैक्सीन उन्होंने ही बनाया है। यह महाविकास आघाडी सरकार का काम है."

जीशान ने कहा कि 2019 में लोगों ने मुझे चुना है, तो शिवसेना को यह पता होना चाहिए कि लोगों ने मुझे चुना है। बीएमसी के एच ईस्ट वार्ड में बहुत भ्रष्टाचार है एक ही काम यहां दो बार दिखाया जा रहा है, मैंने भी इस संबंध में शिकायत की थी। बांद्रा पूर्व में कोई विकास नहीं हुआ है। जो चीज गलत है मैं उसके बारे मे बोलूंगा अगर लोगों के साथ कुछ गलत होता है, तो मैं बोलूंगा कोई भी मुझे चुप नहीं करा सकता।

जीशान ने बताया कि मैंने अपने वरिष्ठों को एक पत्र लिखा है और मैंने सब कुछ उन्हे बताया है। इसमें कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए और इसका हल आसानी से निकाला जा सकता है अगर कोई व्यक्ति काम करना चाहता है, तो उसे काम करने दें।

जीशान ने आरोप लगाते हुए कहा कि शिवसेना नेता अनिल परब द्वारा समस्याएं पैदा की जा रही हैं वह इतने बड़े मंत्री हैं और उन्हे यह शोभा नही देता। मैं चुप नहीं रहूंगा लेकिन अपनी आवाज उठाता रहूंगा।
अनिल परब ही जानते है कि मुझे क्यूं नही बुलाया गया मैं काम करता हूं और मुझे नहीं लगता कि उन्हें मेरा काम पसंद है इसलिए मेरे काम में समस्याएं पैदा की जा रही हैं। अगर वह ऐसी समस्याएं पैदा करते रहे तो मैं चुप नहीं रहूंगा। जो गलत है उस्के खिलाफ मै आवाज उठाता रहुंगा।
मैंने आदित्य ठाकरे से बात की, उन्होंने अपने लोगो से बात भी की होगी , लेकिन मुझे नहीं लगता कि ऊन लोगो ने आदित्य ठाकरे की भी बात नही सुनी यह सब राजनीति हो रही है।

आज मुंबई के दादर इलाके में कोरोना वैक्सीन सेंटर का उद्घाटन करने आये मेयर किशोरी पेडनेकर और सांसद राहुल शेवाले ने कहा कि वैक्सीन को लेकर कोई राजनीति नही की जा रही है।

आरोप था कि मुंबई में जितने वैक्सीन सेंटर है वहां पर शिवसेना के नगरसेवकों के पोस्टर लगाए जा रहे हैं जिसका विरोध कई राजनीति पार्टी कर रही है। इस मुद्दे पर राहुल शेवाले ने कहा कि पोस्टर लगाने के पीछे का मकसद है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को वैक्सीन के बारे में जागरूक किया जाए न कि राजनीति कराई जाए। अगर कोई इसे गलत नजरिये से देखता है तो यह बात गलत है।