इस समय जहां पीएनबी घोटाला देश भर में सुर्खियों में चल रहा है तो वहीं दूसरी आेर रक्षा मंत्री सीतारमन ने कहा है कि पीएनबी घोटाला पिछली यूपीए सरकार की देन है। गुरूवार को रक्षा मंत्री ने शिलांग में कहा कि पीएनबी घोटाले को लेकर जो कुछ भी बाहर आ रहा है वह पिछली यूपीए सरकार के कार्यकाल का नतीजा है। दरअसल, हम इसे प्रकाश में लाए हैं। निश्चित रूप से इसमें कार्रवाई होगी। निर्माला ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार यूपीए के एक के बाद एक घोटाले को उजागर कर रही है।

 

अरबपति आभूषण कारोबारी नीरव मोदी द्वारा करीब 11,400 करोड़ की चपत लगाकर देश से भाग निकलने को कांग्रेस ने ‘सबसे बड़ा बैंक लूट’ घोटाला करार दिया। कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उनकी सरकार पर तीखा हमला बोला है और आरोप लगाया कि यह सब पीएमओ की नाक के ठीक नीचे हुआ।


एक आेर जहां ये दावे किए जा रहे थे कि मोदी के सत्ता में आने के बाद पिछले साढ़े तीन सालों में कोई भ्रष्टाचार नहीं हुआ हैं तो इसी बीच दावे की हवा निकालने के लिए कांग्रेस ने इस मामले को तेजी से लपक लिया है। कांग्रेस ने सरकार से सवाल किया कि आखिर वे कौन लोग हैं जो इस मामले के आरोपी नीरव मोदी और मेहुल चौकसी को बचा रहे हैं?


कांग्रेस के मीडिया विभाग के प्रमुख रणदीप सुरजेवाला ने गुरुवार को संवाददाताओं को बताया कि हरि प्रसाद नामक एक व्यक्ति ने 26 जुलाई 2016 को एक लिखित शिकायत के जरिए इस मामले से प्रधानमंत्री को अवगत कराया था और प्रधानमंत्री कार्यालय ने इस तरह की शिकायत मिलने की बात को स्वीकार भी किया था।