PM नरेंद्र मोदी ने 'मन की बात' कार्यक्रम के 93वें एपिसोड को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि 28 सितंबर को अमृत महोत्सव का एक विशेष दिन आ रहा है. इस दिन हम भारत मां के वीर सपूत भगत सिंह जी की जयंती मनाएंगे. भगत सिंह जी की जयंती के ठीक पहले उन्हें श्रद्धांजलि स्वरुप एक महत्वपूर्ण निर्णय किया है. यह तय किया है कि चंडीगढ़ एयरपोर्ट का नाम अब शहीद भगत सिंह जी के नाम पर रखा जाएगा.

ये भी पढ़ेंः बड़ा खुलासाः PFI ने रची थी PM मोदी पर हमले की साजिश, ट्रेनिंग कैंप भी लगाए गए

प्रधानमंत्री मोदी ने Sign Language के बारे में बात करते हुए कहा, 'बहुत से ऐसे भी लोग हैं जो या तो सुन नहीं पाते, या, बोलकर अपनी बात नहीं रख पाते. ऐसे साथियों के लिए सबसे बड़ा सम्बल होती है, Sign Language. लेकिन भारत में बरसों से एक बड़ी दिक्कत ये थी कि Sign Language के लिए कोई स्पष्ट हाव-भाव तय नहीं थे, standards नहीं थे. इन मुश्किलों को दूर करने के लिए ही वर्ष 2015 में Indian Sign Language Research and Training Center की स्थापना हुई थी. दो दिन पहले यानी 23 सितंबर को Sign Language Day पर, कई स्कूली पाठ्यक्रमों को भी Sign Language में Launch किया गया है. Sign Language के तय Standard को बनाए रखने के लिए राष्ट्रीय शिक्षा नीति में भी काफी बल दिया गया है.'

उन्होंने कहा, 'आज भारत Para Sports में भी सफलता के परचम लहरा रहा है. हम सभी कई Tournaments में इसके साक्षी रहे हैं. आज कई लोग ऐसे हैं, जो दिव्यांगों के बीच Fitness Culture को जमीनी स्तर पर बढ़ावा देने में जुटे हैं. इससे दिव्यांगों के आत्मविश्वास को बहुत बल मिलता है.'

ये भी पढ़ेंः अमित शाह का बड़ा बयान, नीतीश कुमार का अब नहीं लेंगे साथ, बिहार में CM फेस पर भी स्थिति साफ

प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रीय खेलों का जिक्र करते हुए कहा, '29 सितंबर से गुजरात में National Games का आयोजन हो रहा है.' ये बड़ा ही खास मौका है, क्योंकि National Games का आयोजन, कई साल बाद हो रहा है.' कोविड महामारी की वजह से पिछली बार के आयोजनों को रद्द करना पड़ा था. इस खेल प्रतियोगिता में हिस्सा लेने वाले हर खिलाड़ी को मेरी बहुत-बहुत शुभकामनाएं. इस दिन खिलाड़ियों का उत्साह बढ़ाने के लिए मैं उनके बीच में ही रहूंगा.'