2022 में होने जा रहे राष्ट्रीय खेलों की मेजबानी को लेकर पूरा देश तैयारियों में जुट गया है और इस बार मेघालय पर पुरे देश की निगाहें टिकी है क्योंकि इस बार के राष्ट्रीय खेल को होस्ट मेघालय करने वाला है।


मेघालय दौरे पर गए पीएम मोदी ने भी इस बात पर मुहर लगते हुए कहा कि 2022 में भारत की आजादी के 75 साल पूरे होंगे तो वहीं दूसरी तरफ एहि वो साल होगा जब मेघालय के गठन के भी 50 साल पूरे होंगे और राष्ट्रीयखेलों का आयोजन होना एक त्रिवेणी के सामान है जिसका स्वर्ण मौका मेघालय को मिल रहा है,  ये मेघालय के लिए नए संकल्प लेने का मौका और इसके लिए राज्य को क्या करना है, कैसे करना है इसके लिए संकल्प लेना होगा और उसे तय समय में पूरा करके दिखाना होगा।



आपको बता दें इससे पहले राज्य के खेल एवं युवा मामलों के मंत्री जेनिथ एम संगमा ने यह दावा किया है कि मेघालय 2022 में होने वाले राष्ट्रिय खेलों की मेजबानी करने के योग्य है।

ऐसा कहा जा रहा है कि मेघालय राष्ट्रिय खेलों के आयोजन से जुडी जरूरी मूलभूत सुविधा और उन्हें खड़ा करने का पर्याप्त समय भी नहीं है लेकिन संगमा ने कहा कि राज्य के पास इन खेलों की मेजबानी के लिए प्रपात समय है और इसे सफलतापूर्वक करके दिखायेगा।

संगमा ने विधानसभा में कहा कि हमारे पास इस महाआयोजन के लिए चार साल का समय बचा है। हम सफल मेजबानी को लेकर पूरी तरह से तैयार हैं. हम यह नहीं कह रहे हैं की समय पर्याप्त है लेकिन हम 2022 तक हर जरूरी तैयारी पूरी कर लेंगे।

 
गौरतलब है कि राष्ट्रिय खेलों के आयोजन के लिए मेघालय में विभिन्न स्थानों पर निर्माण स्थलों का चयन कर लिया गया है और जल्द ही इन्हे लेकर काम शुरू होगा। संगमा ने बताया कि वर्ष 2022 के राष्ट्रिय खेलों में कुल 14450 एथलीट और अधिकारी हिस्सा लेंगे।