नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अमेरिका, जापान, ऑस्ट्रेलिया एवं भारत के चतुष्कोणीय गठबंधन (क्वॉड) की शिखर बैठक में भाग लेने के लिए 23 एवं 24 मई को जापान की राजधानी टोक्यो जाएंगे। विदेश सचिव विनय मोहन क्वात्रा ने आज यहां संवाददाताओं को बताया कि जापान के प्रधानमंत्री फूमियो किशिदा के निमंत्रण पर मोदी जापान जा रहे हैं जहां वह क्वॉड की बैठक में शिरकत करने के साथ ही अमेरिका के राष्ट्रपति जोसेफ आर बिडेन, जापान के प्रधानमंत्री किशिदा और ऑस्ट्रेलिया के नये प्रधानमंत्री के साथ अलग-अलग द्विपक्षीय बैठकें भी करेंगे। 

ये भी पढ़ेंः ज्ञानवापी मामले में विवादित टिप्पणी करने वाले डीयू प्रोफेसर रतन लाल गिरफ्तार, साइबर सेल के बाहर प्रदर्शन

क्वात्रा ने बताया कि प्रधानमंत्री श्री मोदी जापान के बिजनेस लीडरों से मुलाकात करने के साथ ही भारतीय समुदाय के एक स्वागत कार्यक्रम को भी संबोधित करेंगे। उन्होंने बताया कि मोदी की अमेरिकी राष्ट्रपति के साथ द्विपक्षीय बैठक 24 मई को होगी। बिडेन के नेतृत्व में भारत अमेरिका के बीच बहुआयामी संबंधों को अधिक गति, गहरायी एवं विविधता प्राप्त हुई है। इस बैठक में दोनों देशों के बीच रक्षा, सुरक्षा, ऊर्जा, जलवायु परिवर्तन संसाधनों के साझीदारी जैसे विषयों पर बातचीत होने की संभावना है। एक सवाल के जवाब में क्वात्रा ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया में चुनाव हुए हैं। 

ये भी पढ़ेंः Disha Rape Case Hyderabad: फर्जी था कथित चार आरोपियों का एनकाउंटर, पुलिसकर्मियों के खिलाफ चलेगा हत्या का केस


क्वॉड शिखर सम्मेलन तक नए ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री का चुनाव हो जाएगा और उम्मीद है कि प्रधानमंत्री मोदी की टोक्यो में ऑस्ट्रेलिया के नए प्रधानमंत्री से भेंट हो। इस बैठक में भारत ऑस्ट्रेलिया समग्र रणनीतिक साझीदारी की समीक्षा होगी और क्षेत्रीय एवं वैश्विक घटनाक्रमों पर विचार विमर्श होगा। जापान के प्रधानमंत्री के साथ भारत जापान विशेष रणनीतिक एवं वैश्विक साझीदारी को आगे बढ़ाने के रोडमैप तथा व्यापार एवं निवेश, स्वच्छ ऊर्जा एवं पूर्वोत्तर में सहयोग बढ़ाने सहित द्विपक्षीय आर्थिक सहयोग बढ़ाने के बारे में चर्चा होगी। एक प्रश्न के उत्तर में कहा कि क्वॉड की बैठक में यूक्रेन का मुद्दा उठ सकता है लेकिन इस बारे में भारत की राय सर्वविदित है। हम मानते हैं कि सैन्य कार्रवाई तुरंत रुकनी चाहिए। संवाद एवं कूटनीति ही समाधान का सर्वश्रेष्ठ तरीका है।