उत्तर प्रदेश में प्रधानमंत्री मोदी का दूसरा ड्रीम प्रोजेक्ट तैयार हो चुका है। यह ड्रीम प्रोजेक्ट प्राचीनता को संजोए हुए काशी के घाटों की शृंखला में एक और खूबसूरत घाट नमो घाट भी जुड़ गया है। यह प्रोजेक्ट प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में अंतर्राष्ट्रीय स्तर का पर्यटन स्थल बनाया गया है। बता दें कि घाट की बनावट और अंतर्राष्ट्रीय सुविधा के साथ नमस्ते करता हुआ स्कल्पचर पर्यटकों को आकर्षित कर रहा है।


34 करोड़ की लागत से खिड़किया घाट के प्रथम फेज के पुनरुद्धार काम लगभग पूरा होने को है। माना जा रहा है कि इसका उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जल्दी ही कर सकते है। इस घाट से जलमार्ग और वायु मार्ग को भी जोड़ा जाएगा। जिससे पर्यटक अन्य शहरों तक जा सकें। 21000 स्क्वायर मीटर में बन रहे इस घाट की लागत लगभग 34 करोड़ रुपये है। जो लगभग आधा किलोमीटर लंबा है।

ऐसा है यह घाट-
-इस घाट पर वोकल फॉर लोकल भी दिखेगा। -यहां काशी विश्वनाथ धाम सुगम दर्शन का टिकट ले सकते हैं और जेटी से बोट द्वारा श्री काशी विश्वनाथ धाम जा सकेंगे।-यहां पर्यटक सुबह-ए-बनारस का नजारा देख और गंगा आरती में शामिल हो सकेंगे। -वाटर एडवेंचर स्पोर्ट्स का मजा ले सकेंगे ,सेहतमंद रहने के लिए सुबह मॉर्निंग वॉक, व्यायाम और योग कर सकेंगे, दिव्यांगजन और बुजुर्गों के लिए मां गंगा के चरणों तक रैंप बना है।-इसके साथ ही यहां पर ओपेन थियेटर है, लाइब्रेरी, बनारसी खान पान के लिए फूड कोर्ट है, मल्टीपर्पज प्लेटफार्म होगा जहां हेलीकाप्टर उतरने के साथ ही विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन हो सकता है।-गंगा को प्रदूषण मुक्त करने के लिए सीएनजी से चलने वाली नाव के लिए फ्लोटिंग सीएनजी स्टेशन भी खिरकिया घाट पर बना है।