प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद के दोनों सदनों से पारित नागरिकता संशोधन विधेयक (सीएबी) को लेकर असम और पूर्वोत्तर राज्यों के लोगों को आश्वस्त करते हुए कहा कि उनके अधिकार कोई भी नहीं छीन सकता, बस केवल कांग्रेस के भ्रम में फंसने से बचने की जरूरत है। 

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता मोदी ने यहां बरवाअड्डा में पार्टी प्रत्याशी के समर्थन में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा, मैं असम के अपने भाई-बहनों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि नागरिका संशोधन विधेयक के पारित होने से उन्हें डरने की जरूरत नहीं है। मैं आपको भारोसा दिलाता हूं कि इस विधेयक के पारित होने से कोई भी आपके अधिकार को नहीं छीन सकता है। 

उन्होंने पूर्वोत्तर के लोगों को सावधान करते हुए कहा कि इस विधेयक को लेकर कांग्रेस जिस झूठ का प्रचार कर रही है उसमें फंसने से बचने की जरूरत है। मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार और भाजपा उपनियम छह के प्रावधानों के अनुसार असम के लोगों के राजनीतिक, सांस्कृतिक, भाषाई एवं उनकी जमीन की संवैधानिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि नागरिकता संशोधन विधेयक में किए गए प्रावधानों से पूरे पूर्वोत्तर को लगभग बाहर रखा गया है इसलिए इस क्षेत्र के लोगों को डरने की जरूरत नहीं है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस इस विधेयक को लेकर झूठ फैला रही है और लोगों को गुमराह करने का प्रयास कर रही है।