जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा अभी 14वें भारत-जापान वार्षिक शिखर सम्मेलन में शामिल हुए हैं। उन्होंने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की और कई मुद्दों पर चर्चा की। किशिदा ने रूस यूक्रेन के युद्ध पर भी चर्चा है। किशिदा ने कहा कि "जापान और भारत मिलकर इस दिशा में लगातार काम करेंगे कि जल्द से जल्द युद्ध समाप्त हो जाए "।
PM Modi ने जापान के प्रधानमंत्री को दिया खास तोहफा, जानकर आप भी देंगे दाद!
आर्थिक सहयोग बढ़ाने की चर्चा पर किशिदा ने कहा कि हमारे दोनों देशों को खुले और मुक्त हिंद-प्रशांत के लिए प्रयास बढ़ाने चाहिए। वहीं उन्होंने भारत में निवेश की घोषणा करते हुये कहा कि जापान अगले 5 वर्षों में भारत में निवेश लक्ष्य को बढ़ाकर 5 ट्रिलियन येन या 3.2 लाख करोड़ रुपये कर देगा। भारत-जापान आर्थिक मंच को संबोधित करते हुए PM Modi ने कहा कि प्रगति समृद्धि और साझेदारी भारत-जापान संबंधों के आधार हैं।

PM मोदी ने जापान के PM को भेंट की चंदन की लकड़ी से बनी 'कृष्ण पंखी', जानें खासियत - PM Modi gifted Krishna Pankhi made out of sandalwood to Japan PM Fumio

'कृष्ण पंखी' उपहार

इसी के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत की आधिकारिक यात्रा पर पहुंचे जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा को 'कृष्ण पंखी' उपहार में दिया, जो कि चंदन की लकड़ी से बना है और इसके किनारों पर कलात्मक आकृतियों के माध्यम से भगवान कृष्ण की विभिन्न मुद्राओं को दर्शाया गया है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि 'पंखी' को पारंपरिक उपकरणों के जरिए उकेरा गया है और इसके शीर्ष पर हाथ से नक्काशी कर तैयार की गई मोर की आकृति है जोकि भारत का राष्ट्रीय पक्षी है।


यह भी पढ़ें- Cyclone Asani का बवंडर इन राज्यों में झमाझम कराएगा बारिश, गर्मी से मिल सकती है राहत


Indo-Japan एक टीम


हम भारत में जापानी कंपनियों को हर संभव सहायता प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। पीएम मोदी ने भी जापान और भारत के बीच आर्थिक साझेदारी पर बोलते हुये कहा कि जापान भारत में सबसे बड़े निवेशकों में से एक है। Indo-Japan मुंबई-अहमदाबाद हाई-स्पीड रेल कॉरिडोर पर 'वन टीम-वन प्रोजेक्ट' के रूप में काम कर रहा है।