प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत की उपलब्धि के लिए वैश्विक समुदाय के प्रति आभार प्रकट किया। उन्होंने कहा, 'UNSC में भारत की सदस्यता के लिए मिले वैश्विक समुदाय द्वारा दिए गए भारी समर्थन के लिए बहुत आभारी हूं। वैश्विक शांति, सुरक्षा समेत विभिन्न मुद्दों पर सदस्य देशों के साथ भारत काम करेगा।'

संयुक्त राष्ट्र आम सभा (UN General Assembly) में असेंबली के 75वें सत्र के अध्यक्ष,  सुरक्षा परिषद के पांच अस्थायी सदस्यों और आर्थिक एवं सामाजिक परिषद के सदस्यों के लिए बुधवार को चुनाव हुआ। कोविड-19 संबंधित पाबंदियों के चलते वोटिंग के लिए विशेष इंतजाम किए गए थे।

संयुक्त राष्ट्र महासभा में प्रत्येक दो साल के कार्यकाल के लिए कुल 10 में से पांच अस्थायी सदस्यों का चुनाव होता है। महासभा के अध्यक्ष तिज्जानी मोहम्मद बंदे ने बुधवार को चुनाव को लेकर ऐलान किया था। कोविड-19 के मद्देनजर इस वोटिंग के लिए संयुक्त राष्ट्र महासभा पहुंचे राजनयिक, कर्मचारी तथा अन्य अधिकारियों ने वोटिंग की और तुरंत वहां से चले गए।

एशिया-पैसिफिक ग्रुप की सीट के लिए केवल एक भारत ही उम्मीदवार प्रशांत समूह की इस इकलौती सीट के लिए एकमात्र उम्मीदवार था. चीन और पाकिस्तान समेत 55 सदस्यीय एशिया-पैसिफिक ग्रुप  ने पिछले साल जून में सर्वसम्मति से भारत को उम्मीदवार के तौर पर अपना समर्थन दिया था।