प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोसी नदी पर रेल महासेतु का उद्घाटन करके बिहार को खास सौगात दी है। इस रेल पुल के बनने से सबसे ज्यादा फायदा दरभंगा, मधुबनी, सुपौल और सहरसा जिले में रहने वाले लोगों को होगा। इसी के साथ कोसी और मिथिलांचल के लोगों का 86 साल पुराना सपना साकार हो गया। बॉलीवुड एक्टर संजय मिश्रा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस कदम की जमकर सराहना की है। उन्होंने ये कहा कि प्रधानमंत्री ने उनके दादाजी का सपना पूरा कर दिया।
बॉलीवुड एक्टर संजय मिश्रा ने कहा, 'मैं मिथिला का हूं, जो कि विद्यापति, मधुबनी पेंटिंग्स, अपने लोक संगीत के लिए जाना जाता है। मेरे दादा जी बताते थे 1887 में ब्रिटिश राज में अंग्रेजों ने कोसी नदी के ऊपर एक पुल बनाया था। 1934 में बाढ़ और भूकंप एक साथ आने से ये पुल पूरी तरह से टूट गया। उसके बाद से उसे बनाने की कभी कोशिश नहीं की गई।'
दिग्गज अभिनेता ने आगे कहा कि 'अब दादा जी नहीं रहे लेकिन उनका सपना साकार हुआ। भारत सरकार ने 2020 में हमारे देश को और बिहार को एक उपहार दिया। कोसी में महासेतु जो कि दो किमी. लंबा है। हम भारत सरकार से वादा करते हैं कि इसे अपना समझेंगे और इसे संभालेंगे।' रेल मंत्री पीयूष गोयल ने दिग्गज अभिनेता का ये विडियो अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है।
पीयूष गोयल ने विडियो शेयर करते हुए ट्वीट में लिखा, 'प्रसिद्ध फिल्म कलाकार संजय मिश्रा के दादा जी के समय आई बाढ़ और भूकंप से कोसी का पुल टूट गया था, जिसके निर्माण का सपना वो बहुत समय तक देखते रहे। आज 2020 में उनके दादा जी के उस सपने को कोसी रेल महासेतु बना कर पीएम मोदी की सरकार ने पूरा किया है। #BiharKaPragatiPath'
बिहार में रेल कनेक्टिविटी के क्षेत्र में नया इतिहास रचा गया है। शुक्रवार को विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पीएम मोदी ने कोसी रेल मेगा ब्रिज समेत रेलवे की 12 अन्‍य परियोजनाओं का उद्घाटन किया। साथ ही 5 नई ट्रेनों का भी तोहफा दिया है। पीएम मोदी ने इस मौके पर कहा कि ये संयोग है कि एक वैश्विक महामारी के बीच ही मिथिला और कोसी के टूटे संपर्क को जोड़ा जा रहा है। ये श्रद्धेय अटल बिहार वाजपेयी और नीतीश बाबू का ड्रीम प्रोजेक्ट रहा है। इसके साथ ही बिहार में 250 किमी लंबा डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर बन रहा है। इससे यात्रियों ट्रेन से अलग मालगाड़ी को दूसरा ट्रैक मिलेगा जिससे समय की बचत होगी।