मंगलवार को होने वाले शंघाई सहयोग संगठन (SCO) डिजिटल सम्मेलन में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग का आमना-सामना होगा। इस सम्मेलन में पीएम मोदी शी जिनपिंग के अलावा रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान SCO सदस्य देशों के अन्य शीर्ष अधिकारी भी मौजूद रहेंगे।

इस सम्मेलन में शामिल होने वाले देश बढ़ रहे आतंकवाद कोरोनावायरस से हुए भारी आर्थिक नुकसान से निपटने के तरीकों जैसे कई बड़े मुद्दों पर चर्चा करेंगे। बता दें कि इस साल मई में पूर्वी लद्दाख में भारत चीन के बीच हुए विवाद के बाद ये ऐसा पहला मौका होगा जब पीएम मोदी शी जिनपिंग आमने-सामने होंगे।

बताते चलें कि लद्दाख के गलवान घाटी में भारतीय चीनी सैनिकों के बीच हुई झड़प के बाद से दोनों देशों के बीच काफी तनातनी हो गई थी। जिसके बाद से ही दोनों देश बातचीत के जरिए सुलह करने की कोशिशों में जुटे हुए हैं। पूर्वी लद्दाख में सैनिकों की वापसी को लेकर इस हफ्ते एक दौर की सैन्य वार्ता हो सकती है। सीमा विवाद के चलते पिछले 6 महीनों से दोनों देशों की सेनाएं आमने-सामने हैं।