प्रधानमंत्री आवास योजना (Pradhan Mantri Awas Yojana ) ग्रामीण को लेकर एक अहम फैसला लिया गया है। केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर के मुताबिक इस योजना को मार्च, 2024 तक जारी रखने की मंजूरी दी गई है।

अनुराग ठाकुर ने कहा, प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के अंतर्गत आंकलन किया गया था कि 2 करोड़ 95 लाख लोगों को पक्के मकान की ज़रूरत है। अब तक 1 करोड़ 67 लाख आवास बना कर दिए जा चुके हैं। 

शेष परिवारों के पक्के मकान बनाने के लिए इस योजना को 2024 तक जारी रखने की मंजूरी दी गई। अब सरकार को शेष 1 करोड़ 55 लाख मकान निर्माण कराने हैं। अनुराग ठाकुर के मुताबिक शेष बचे पक्के मकानों के लिए 2,17,257 करोड़ रुपये की मंजूरी दी गई है। 

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री आवास योजना (Pradhan Mantri Awas Yojana) की शुरुआत 20 नवंबर, 2016 को की गई थी। इसका मकसद ग्रामीण क्षेत्रों में सभी के लिए आवास उपलब्ध कराना था। इस योजना को घरों में पानी, गैस, शौचालय और बिजली आपूर्ति जैसी सुविधाएं शामिल करके अधिक व्यापक बनाया गया था। योजना के तहत घरों के निर्माण में नई प्रौद्योगिकियों का उपयोग किया जा रहा है। योजना के तहत घर का न्यूनतम क्षेत्रफल 25 वर्गमीटर किया गया है।

ये भी फैसला: केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर (Union Minister Anurag Thakur) के मुताबिक केन बेतवा लिंक प्रोजेक्ट को मंजूरी दी गई है। 44,605 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले केन बेतवा नदियों को जोड़ने वाली इस परियोजना को 8 वर्ष में पूरा किया जाएगा। इस राष्ट्रीय परियोजना में केंद्र सरकार का योगदान 90 फीसदी होगा।