आखिरकार 137 दिनों के बाद पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोत्तरी की गई है। मंगलवार को पेट्रोल और डीजल 80 पैसे महंगा हुआ है। वहीं घरेलू रसोई गैस की कीमतों में आग लग गई है। दरअसल इसकी कीमत 50 रुपए प्रति सिलेंडर बढ़ गई है। 4 नवंबर 2021 के बाद से कीमत अपरिवर्तित रहने के बाद यह पहली बढ़ोतरी होगी।

ये भी पढ़ेंः आइजोल ब्लास्ट में इस पड़ोसी देश का हो सकता है हाथ, सामने आया बड़ा सबूत


बता दें कि यूक्रेन और रूस के बीच चल रहे युद्ध के चलते कच्चे तेल की कीमतों में बढ़ोत्तरी हुई है। ये भारत के लिए इसलिए चिंता की बात है, क्यों कि देश अपनी तेल मांग का 85% आयात करता है। वहीं दिल्ली में पेट्रोल की कीमत अब 96.21 रुपये प्रति लीटर होगी, जो पहले 95.41 रुपये थी, जबकि डीजल की कीमत 86.67 रुपये प्रति लीटर से बढ़कर 87.47 रुपये हो गई है।

ये भी पढ़ेंः इस कारण से हुआ था China का plane crash, जानिए रोंगटे खड़े कर देने वाला राज


उधर, राष्ट्रीय राजधानी में 14.2 किलोग्राम के गैर-सब्सिडी वाले एलपीजी सिलेंडर की कीमत अब 949.50 रुपये होगी। जबकि एलपीजी दरों को पिछली बार 6 अक्टूबर को संशोधित किया गया था, उत्तर प्रदेश और पंजाब जैसे राज्यों में विधानसभा चुनाव से पहले 4 नवंबर से पेट्रोल और डीजल की कीमतें फ्रीज पर थीं। कच्चे माल की कीमतों में उछाल के बावजूद कीमतें तब से स्थिर हैं। नवंबर की शुरुआत में अंतरराष्ट्रीय तेल की कीमतें लगभग 81-82 डॉलर प्रति बैरल थीं, जो अब 114 डॉलर प्रति बैरल हैं। सूत्रों ने कहा कि 5 किलो के एलपीजी सिलेंडर की कीमत अब 349 रुपये होगी जबकि 10 किलो की कीमत 669 रुपये होगी। 19 किलो के कमर्शियल सिलेंडर की कीमत अब 2003.50 रुपये है।