पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (West Bengal Chief Minister Mamata Banerjee) ने रविवार को भवानीपुर से अपनी प्रचंड जीत को नंदीग्राम में साजिश के खिलाफ जनता की सहज प्रतिक्रिया बताया और कहा कि इस जीत से स्पष्ट हो गया है कि बंगाल क्या चाहता है। 

बनर्जी (Banerjee) ने संवाददाताओं से कहा , 'नंदीग्राम में एक साजिश थी। भवानीपुर ने माकूल जवाब दिया। नंदीग्राम मामला अभी भी न्यायालय में विचाराधीन है। मैं इस पर अब और बात नहीं करना चाहती। भवानीपुर ने स्पष्ट कर दिया है कि बंगाल (Bangal) क्या चाहता है।' 

बनर्जी (banerjee) ने भवानीपुर की जनता आभार जताया और कहा , 'कोविड और बारिश के बावजूद लोगों ने जिस तरह से मतदान किया, मैं उसकी ऋणी हूं। भवानीपुर में 46 प्रतिशत गैर-बंगाली मतदाता हैं। सभी वर्गों और विश्वासों के लोगों ने मुझे वोट दिया। मतगणना के सभी चक्रों में मुझे बढ़त मिली। ऐसा पहली बार हुआ है। भवानीपुर के लोगों ने पूरे देश को दिखाया है कि बंगाल क्या चाहता है।'

उन्होंने कहा, 'मैं दो उंगलियों से जीत का संकेत नहीं दूंगी। मैं तीन उंगलियों से जीत का संकेत दूंगी , क्योंकि हम तीन स्थानों पर जीते हैं।' उन्होंने आगामी उपचुनाव (by-election) के लिए तीन उम्मीदवारों के नामों की भी घोषणा की। उन्होंने बताया कि ब्रजाकिशोर गोस्वामी शांतिपुर से, उदयन गुहा दिनहाटा से और शोवनदेव चट्टोपाध्याय खरदा से चुनाव लड़ेंगे। वहीं गोसाबा सीट पर बप्पादित्य नस्कर अथवा सुब्रत मंडल उम्मीदवार होंगे।