इंसान की हाइट हेल्थ के बारे में बहुत कुछ बता सकती है। अगर किसी इंसान की हाइट औसत से कम या ज्यादा है तो इसके फायदे और नुकसान दोनों होते हैं जिनके बारे में आसानी से पता लगाया जा सकता है। इतना ही बल्कि हाइट से इंसान के अंदर मौजूद बीमारियों का भी पता लग जाता है। हाइट के आप जिन बीमारियों का पता लगा सकते हैं वो इस प्रकार हैं—

डायबिटीज
आपको बता दें कि इंसान के पैरों की लंबाई टाइप-2 डायबिटीज की संभावना से जुड़ी हो सकती है। करीब 6,000 लोगों पर हुए एक शोध के आधार पर वैज्ञानिकों का कहना है कि लंबे कद के लोगों में डायबिटीज की संभावना कम होती है। इसके पीछे का कारण वैज्ञानिक नहीं समझ पाए हैं, लेकिन जन्म से पहले खराब पोषण या मेटाबॉलिज्म की वजह से ऐसा हो सकता है।

कैंसर
औसत से कम कद वाले लोगों में कुछ विशेष प्रकार के कैंसर का खतरा कम होता है। यूरोप और नॉर्थ अमेरिका में करीब एक लाख से ज्यादा लोगों पर हुई एक स्टडी बताती है कि कम कद वाली महिलाओं में ओवेरियन कैंसर का जोखिम कम होता है। वहीं, 50 से 69 साल के 9,000 से ज्यादा ब्रिटिश पुरुषों पर हुई एक स्टडी के मुताबिक, कम कद वाले लोगों में प्रोस्टेट कैंसर का खतरा कम होता है।

हार्ट डिसीज
5 फुट 3 इंच से कम कद के लोगों में कोरोनरी हार्ट डिसीज का खतरा 5 फुट 8 इंच के लोगों की तुलना में 50 फीसद ज्यादा होता है। वैज्ञानिक इसके पीछे जन्म से पहले या बचपन में खराब न्यूट्रिशन और इंफेक्शन्स का हवाला देते हैं।

ब्लड क्लॉट
यह एक बेहद गंभीर समस्या है। खासतौर से जब यह किसी बड़ी नस या फेफड़ों में ट्रैवल करता है। एक स्टडी में ऐसा दावा किया गया है कि इंसान का कद जितना कम होगा, नसों में ब्लड क्लॉट बनने की संभावना भी उतनी ही कम होगी। 5 फुट या इससे कम कद वाले लोगों में ब्लॉट क्लॉट की दिक्कत कम देखी जाती है।

स्ट्रोक
जब दिमाग के किसी एरिया में ब्लड फ्लो बंद हो जाता है तो स्ट्रोक की समस्या पैदा होती है। एक स्टडी के मुताबिक, लंबे कद के लोगों में स्ट्रोक की दिक्कत कम होती है। बचपन में पर्याप्त न्यूट्रिशन या हेल्थ से जुड़ी चीजों से इंसान का कद तय होता है। शायद यही एक कारण स्ट्रोक के जोखिम को कम करता है।