पाकिस्तान (Pakistan) की कंगाली अब किसी से छिपी नहीं है। आतंक को बढ़ावा देने वाले इस देश का खजाना पूरी तरह खाली हो चुका है। कर्जा जरूरत से ज्यादा बढ़ गया है। हालत यह है कि पाकिस्तान दुनिया के सबसे बड़े कर्जदारों में शामिल हो गया है। विश्व बैंक (World Bank) की एक रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान उन शीर्ष 10 कर्जदार देशों में शामिल हो गया है, जिनके पास सबसे ज्यादा बाहरी कर्ज है। पाक को अब विदेशी कर्ज लेने में परेशानी का सामना करना पड़ा सकता है क्योंकि वह कोविड-19 महामारी के बाद ऋण सेवा निलंबन पहल (डीएसएसआई) का पात्र बन गया है।

डीएसएसआई के मुताबिक दुनिया के 10 बड़े कर्जदारों में अंगोला, बांग्लादेश, इथियोपिया, घाना, केन्या, मंगोलिया, नाइजीरिया, पाकिस्तान, उजबेकिस्तान, और जांबिया शामिल हैं।

हालिया रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान (Pakistan) पर जितना कर्ज है उसमें इमरान सरकार का योगदान 40 फीसदी है। इन हालात में उसे दुनिया से कर्ज मिलना मुश्किल हो सकता है।