ओड़िशा के तटीय क्षेत्रों से आए मुस्लिम प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से शुक्रवार को मुलाकात कर राज्य में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के बारे में अपनी आशंकाओं से उन्हें अवगत कराया।


चाहुदा महाला मुस्लिम जमात (सीएमएमजे) के एक प्रतिनिधि मंडल ने श्री पटनायक से मुलाकात कर एनआरसी के बारे अपनी आशंकाओं से अवगत कराया है। सीएमएमजे के अध्यक्ष भद्रक और एक सदस्य ने पत्रकारों को बताया कि पटनायक ने आश्वासन दिया है कि एनआरसी को लेकर घबराने की कोई आवश्यकता नहीं है और इसे राज्य में लागू नहीं किया जाएगा।


इस बैठक को इस नजरिए से भी महत्वपूर्ण माना जा रहा है क्योंकि बीजू जनता दल ने संसद के दोनों सदनों में पारित नागरिकता (संशोधन) विधेयक को समर्थन दिया था। प्रतिनिधिमंड़ल में भद्रक, बालासोर, जाजपुर और केन्द्रपाड़ा से शामिल लोगों ने कहा कि पटनायक ने उन्हें पूरी तरह आश्वस्त किया है कि एनआरसी को यहां लागू नहीं किया जाएगा और मुस्लिमों के हित राज्य में सुरक्षित हैं। इस बीच, मुख्यमंत्री कार्यालय से प्रतिनिधिमंडल के दावे के बारे में अभी तक कोई भी आधिकारिक सूचना जारी नहीं हुई है।