लोक जनशक्ति पार्टी में तेज राजनीतिक घटनाक्रमों के बीच सांसद चिराग पासवान को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से हटाने के प्रयास तेज हो गए हैं। पार्टी के संसदीय दल के प्रमुख चुने जाने के बाद पासवान के चाचा पशुपति कुमार पारस अपने सभी सांसद समर्थकों के साथ आज पटना जाने की संभावना हैं।

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने पारस को संसदीय दल के प्रमुख बनाने के सांसदों के प्रस्ताव को कल ही मंजूरी दे दी थी। लोजपा के छह सांसदों में से चार ने पारस को संसदीय दल का प्रमुख बनाने का पत्र लिखा था। पार्टी सूत्रों के अनुसार पारस के साथ सांसद प्रिंस राज , चंदन सिंह, वीना देवी और महमूद अली कैसर पटना जाएंगे। 

लोजपा की वही राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक बुलाई जाएगी, जिसमे पासवान को राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से हटा दिए जाने की संभावना है। पारस को ही पार्टी का राष्टीय अध्यक्ष बनने के संकेत दिए गए हैं। पारस ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सराहना की है और उन्हें विकास पुरुष बताया है। उनका मानना है कि पार्टी के अधिकांश नेता और कार्यकर्ता पासवान की कार्यशैली से नाराज है।