संसद की एक समिति के सदस्यों ने गृह सचिव अजय भल्ला से शुक्रवार को पूर्वोत्तर की स्थिति और असम में एनआरसी कवायद के बारे में जानकारी ली। ये सदस्य अगले महीने जमीनी हकिकत का आकलन करने के लिए  क्षेत्र की दौरा करने की योजना बना रहे हैं। सूत्रों ने बताया कि गृह सचिव भल्ला कांग्रेस नेता आनंद शर्मा की अध्यक्षता वाली गृह मामलों की संसद की स्थाई समिति के समक्ष पेश हुए, जिसने उनसे नागरिकता कानून के बाद पूर्वेत्तर राज्यों की स्थिति के बारे में कई सवाल किए।


सदस्यों ने असम में एनआरसी के बारे में भी जानकारी ली और उन लोगों के नाम पूछे जिनका नाम मतदाता परिचय पत्र होने के बावजूद एनआरसी सूची से गायब है। समिति में संसद के दोनों सदनों से विभिन्न राजनितिक दलों के 31 सदस्य शामिल हैं जो अगले महीने गणतंत्र दिवस से पहले असम सहित पूर्वोंत्तर राज्यों के दौरे की योजना बना रहे हैं। सदस्यों को पहले 18 से 21दिसंबर तक क्षेत्र का दौरा करना था, लेकिन असम में नागरिकता विधेयक के खिलाफ प्रदर्शनों के चलते इसे स्थगित कर दिया गया।