झारखंड की उप राजधानी दुमका हवाईअड्डे में आज शाम पैराग्लाइडर के दुर्घटनाग्रस्त हो जाने से उसमें सवार अभियंता की मौत हो गई तथा पायलट गंभीर रूप से घायल हो गये। पुलिस अधीक्षक वाई. एस. रमेश ने इस दुर्घटना की पुष्टि की और बताया कि नागर विमानन विभाग की जांच के बाद ही पैराग्लाइडर दुर्घटना के कारणों का पता चल पायेगा।


वहीं, सूत्रों की मानें तो पैराग्लाइडर उड़ान के बाद दुमका हवाईअड्डे के रनवे पर लैंड कर रहा था। इसी दौरान हवाईपट्टी पर मिट्टी के ढेर से पैराग्लाइडर का अगला पहिया टकरा गया। वह रनवे पर दूर तक फिसलता हुआ दो हिस्सों में बंट गया।


इस दुर्घटना में पैरागलाइडर में सवार अभियंता धर्मेंद्र कुमार की मौत हो गई जबकि पायलट जे. पी. सिंह गंभीर रूप से घायल हो गए। घायल पायलट को बेहतर इलाज के लिए पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर भेजा गया है।


इस बीच दुमका की उपायुक्त राजेश्वरी बी. ने बताया कि घटना की जांच के लिए नागर विमानन की टीम आएगी इसलिए हवाईअड्डे को सील कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि घायल पायलट जेपी सिंह हरियाणा के रहने वाले हैं।